मीठापुर में होगा बिहार का पहला एग्री बिजनेस कॉलेज का निर्माण

मीठापुर में होगा बिहार का पहला एग्री बिजनेस कॉलेज का निर्माण

By: Sudakar Singh
November 10, 11:11
0
.........

Patna : सूबे के किसानों को बाजार से जोड़ने के लिए राज्य सरकार ने राजधानी के मीठापुर में एग्री बिजनेस कॉलेज खोलने का निर्णय लिया है। यह राज्य का पहला एग्री बिजनेस कॉलेज होगा जहां इंटर पास बच्चे अब एग्री बिजनेस की पढ़ाई कर बिहार के उन्नत किसानों को उनकी फसल का वाजिब दाम दिलाने के लिए देश-विदेश के बाजार के बारे में जानकारी दे सकेंगे। खुद भी कृषि उद्यमी बन सकेंगे।


बिहार कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. अजय कुमार सिंह का कहना है कि सूबे में कृषि कर पढ़ाई करने वाले युवाओं को कृषि उद्यमिता का पाठ पढ़ाना बहुत जरूरी है। कृषि विश्वविद्यालयों में उत्पादन बढ़ाने की नई-नई तकनीकी की खोज हो रही है, इससे उत्पादन तो खूब बढ़ा है, लेकिन किसानों को बाजार से जोड़ने की जरूरत है। इसीलिए मीठापुर कृषि फार्म में एग्री बिजनेस कॉलेज खोलने का निर्णय लिया गया है। शुक्रवार को मीठापुर में वीसी ने इस संबंध में विस्तृत विमर्श के लिए एक बैठक बुलाई है। अभी तक राज्य में एग्री बिजनेस की पढ़ाई एक विभाग के रूप में होती थी।


युवा पढ़ेंगे कृषि उद्यमिता का पाठ : विश्वविद्यालय के प्रसार निदेशक डॉ.आरके सोहाने का कहना है कि सूबे के कृषि उत्पादों को राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय बाजार में उतारने की जरूरत है। हर थाली में बिहारी व्यंजन की बात हो रही है। लिहाजा युवाओं को कृषि उद्यमिता का पाठ पढ़ाना बहुत जरूरी है जिससे वे लीची, मधु, दूध, मछली, मखाना आदि उत्पादों को बाजार में आसानी से उतारने की जानकारी ले सकें। लीची और मखाने पर तो बिहार का एकाधिकार है। प्रदेश में दूध एवं मछली का उत्पादन तेजी से बढ़ा है। मधु उत्पादन के क्षेत्र में गया और वैशाली में बेहतर काम हो रहा है। नालंदा में मशरूम का उत्पादन हो रहा है, उसे भी राष्ट्रीय बाजार की जरूरत है।

 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।
comments