मंदिर में हुआ बाल विवाह, ससुर ने किया दुष्कर्म; पति ने सतना स्टेशन पर छोड़ा

मंदिर में हुआ बाल विवाह, ससुर ने किया दुष्कर्म; पति ने सतना स्टेशन पर छोड़ा

By: Sudakar Singh
December 06, 09:12
0
...........

Samastipur : जिले के मंदिरों में बाल विवाह जारी है। इसी कुप्रथा का शिकार हुई जिले के ताजपुर थाना क्षेत्र की 15 वर्षीय बच्ची। उसने महज पांच महीने में अपने जीवन के तीन बड़े हादसे झेले। बच्ची की शादी कल्याणपुर के गोविंदपुर बेलसंडी के 40 वर्षीय युवक के साथ करीब पांच माह पूर्व शहर के थानेश्वर स्थान मंदिर में कराई गई थी। उसकी उम्र 15 साल ही है। शादी के बाद बच्ची पति के घर चली गई। जहां उसे अपने ससुर की खराब नीयत का शिकार होना पड़ा। 


जानकारी मिलने के बाद पति उसे मौसी के यहां ले जाने के बहाने मध्य प्रदेश के सतना स्टेशन पर लावारिस हालत में छोड़ दिया। जहां से भटकते हुए वह रीवा के टॉल प्लाजा के पास पुलिस को मिली। रीवा चाइल्ड लाइन के सदस्यों ने बच्ची को समस्तीपुर चाइल्ड लाइन को सौंपा। घटना बताती है कि बाल विवाह के खिलाफ क्यों असरदार अभियान की जरूरत है। 


सीडब्ल्यूसी अध्यक्ष तेजपाल सिंह ने बताया कि बच्ची की जबरन शादी हुई है। उसके साथ ससुर ने दुष्कर्म किया है। साथ ही उसके पति ने उसे लावारिस छोड़ दिया है। दोनों पर पॉस्को एक्ट के तहत मामला दर्ज होगा। बाल विवाह कराने के मामले में जुड़े सभी परिवार के सदस्यों को भी सजा दिलाई जाएगी। मंदिर में शादी कराने वाले पुजारी तक कार्रवाई की जद में आएंगे। 


मध्य प्रदेश के रीवा चाइल्ड के सदस्य अर्जुन सिंह ने बताया कि बच्ची लावारिस हालत में मिली थी। उसने बताया कि उसके पति उसे सतना स्टेशन छोड़ कर चले गए हैं। उसने अपना पता बताया तब हम उसे यहां लेकर आए। बच्ची की मां ने कहा कि बहन के भरोसे हम दूल्हा में ठगा गए। हम दूल्हा को देखे भी नहीं। पांच महीना पहले थानेश्वर मंदिर में शादी करा दिए। बेटी ने बताया कि ससुर ने उसके साथ गलत किया है। 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।
comments