रोक के बाद भी बालू का स्टॉक जमा कर रहे माफिया, रोज सैकड़ों नावों का हो रहा प्रयोग 

रोक के बाद भी बालू का स्टॉक जमा कर रहे माफिया, रोज सैकड़ों नावों का हो रहा प्रयोग 

By: Sudakar Singh
December 06, 09:12
0
..........

Live Bihar Desk : रोक के बाद भी गंगा और सोन में बालू का खनन जारी है। बालू माफियाओं की धंधेबाजी चरम पर है। हर रोज सैकड़ों नावों के जरिए सोन से बालू निकालकर पहलेजा, छपरा के डोरीगंज और सबलपुर में जमा किया जा रहा है। यहीं से मनमाने दाम पर इसकी खरीद-बिक्री भी जारी है। दिन की शुरुआत से ही यह खेल सोन के हल्दीछपरा गंगा घाट, संगम घाट, चौरासी घाट सहित अन्य घाटों पर शुरू हो जाता है। 


इसके बाद इसे नाव के जरिए छपरा और पहलेजा पहुंचाया जाता है। बालू माफियाओं का यह खेल देर शाम तक जारी रहता है। वहीं सूत्रों की मानें तो बांसघाट के पास भी 100 से अधिक नावों के जरिए हर सुबह बालू खनन किया जाता है। दिन निकलने के बाद बांस घाट पर यह खेल बंद हो जाता है। 
  
दीघा गंगा ब्रिज के नीचे पहलेजा साइड में माफियाओं ने लाखों रुपए मूल्य का सैकड़ों ट्रैक्टर बालू इकट्‌ठा कर लिया है। बालू इकट्‌ठा करने के बाद उसके ऊपर मिट्‌टी डाल दी जाती है जिससे वह दूर से मिट्‌टी के टीले जैसा दिखता है। डिमांड आने पर ट्रैक्टर से उसकी ढुलाई की जाती है। 


दीघा स्थित जेपी पुल के नीचे चल रहा सैंकड़ों ट्रक बालू स्टॉक किया गया है। वहीं हर रोज हजारों नावों के जरिए गंगा और सोन से बालू निकालने का काम भी बेखौफ जारी है। सारण के एसपी हरकिशोर राय ने कहा- पहलेजा के पास स्टॉक किया जा रहा है तो यह गलत है। कई बार रेड भी किया है। एक बार फिर माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। वहीं पटना के एसएसपी मनु महाराज बोले- अवैध खनन में संलिप्त लोगों पर जल्द कार्रवाई की जाएगी। 
 
 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।
comments