क्या आप जानते हैं 300 की कहानी

क्या आप जानते हैं 300 की कहानी

By: Basu mitra
December 21, 01:12
0
PATNA: चेन्नई में भारतीय टीम ने इंग्लैंड को 4-0 से हराकर इतिहास रच दिया।मैच के हीरो अपने पहले शतक को तिहरा शतक में बदलने वाले करुण नायर रहे। करुण से पहले भारत के विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने यह कारनामा किया था।

आइये जानते हैं टेस्ट इतिहास से जुड़े 300 रनों की कहानी 

टेस्ट इतिहास का पहला तिहरा शतक 3 अप्रैल 1930 को लगा था। सबीना पार्क, किंग्सटन में इंग्लिश बल्लेबाज एंडी सेंडम ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 325 रन बनाए। वहीँ भारत की तरफ से पहला तिहरा शतक सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने 28 मार्च 2004 को पाकिस्तना के खिलाफ मुल्तान में बनाया था।इस मैच के बाद सहवाग को मुल्तान का सुल्तान नाम से पुकारा जाने लगा था। 

भारत की तरफ से 3 तिहरा शतक लगाया गया है। जिसमें से दो तिहरा शतक सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग के द्वारा लगाया गया है।टेस्ट के इतिहास में अब तक  कुल 30 तिहरे शतक लगे हैं अब तक। इनमें से पहले 15 शतक बनने में लगे 68 साल, जबकि दूसरे 15 तिहरे शतक 2002 से 2016 के बीच महज 14 साल में लगे हैं। 

 

ईवन नंबर वाले सालों में ऑड ईयर की तुलना में ज्यादा तिहरे शतक बने हैं। 25 शतक ईवन नंबर के सालों (जैसे 1930, 2016 आदि) में लगे तो महज पांच बार ही बल्लेबाज ऑड नंबर (1933, 2009 आदि) में इस जादूई आंकड़े को पार कर पाए।


28 तिहरे शतक टीम की पहली पारी में बने। टीम की दूसरी पारी में दो बल्लेबाज हनीफ मोहम्मद और ब्रेंडन मैक्कुलम ही यह कारनामा कर सके हैं। हनीफ ने वेस्टइंडीज के खिलाफ, तो मैक्कुलम ने भारत के खिलाफ मैच की तीसरी पारी में यह कमाल किया। सबसे ज्यादा 7 तिहरा शतक ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने सबसे ज्यादा 7 तिहरे शतक लगाए हैं, वहीं इस टीम के खिलाफ महज एक तिहरा शतक लगा। इंग्लैंड के खिलाफ सबसे ज्यादा 9 तिहरे शतक लगे हैं।

 इनमें डॉन ब्रेडमैन और ब्रायन लारा दोनों ने दो-दो तिहरे शतक इंग्लैंड के खिलाफ ही बनाए हैं। सबसे तेज तिहरा शतक 4 घंटे 48 मिनट में वॉली हैमंड द्वारा न्यूज़ीलैंड के खिलाफ 1932-33 में बनाया गया था।सबसे कम गेंदों में तिहरा शतक बनाने का रिकार्ड वीरेंद्र सहवाग के नाम है।

सहवाग ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 26 मार्च 2008 को महज 278 गेंद में बना दिया था।सबसे कम उम्र में तिहरा शतक लगाने का रिकॉर्ड गैरी सोबर्स के नाम है उन्होंने यह कारनामा महज 21 साल 213 दिन की उम्र में किया था।



 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।
comments