बिहार के  इस IAS के मुरीद हुए PM मोदी, BANKA UPGRADE APP बना कर किया कमाल

बिहार के इस IAS के मुरीद हुए PM मोदी, BANKA UPGRADE APP बना कर किया कमाल

By: Ashok Kumar Sharma
January 14, 06:01
0
PATNA :...

 बिहार के एक IAS  अफसर ने तकनीकी शिक्षा के प्रसार का ऐसा बिगुल फूंका है जिसकी गूंज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तक पहुंच गयी है। इस IAS  अफसर का नाम है कुंदन कुमार जो अभी बांका के डीएम हैं। नरेन्द्र मोदी ने डीएम कुंदन कुमार से बात की है और एक दिन बांका में रुकने का भरोसा दिलाया है। कुंदन कुमार ने अपने आइआइटियंस दोस्तों की मदद से BANKA UPGRADE APP विकसित किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने ‘बांका अपग्रेट एप’ की जम कर तारीफ की है। इस एप की राष्ट्रीय स्तर पर इतनी प्रशंसा हुई कि अब तमिलनाडु भी अब इसको अपनाने वाला है।

दिल्ली में 4 -5 जनवरी को एक बैठक हुई थी जिसमें देश भर के 115 जिलों के डीएम शामिल हुए थे। इस बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और नीति आयोग के सदस्यों ने संबोधित किया था। इसी बैठक में जिलाधिकारी कुंदन कुमार ने ‘बांका अपग्रेड एप’ का प्रजेंटेशन दिया था। प्रधानमंत्री इस एप से बहुत प्रभावित हुए और कुंदन कुमार की तारीफ की। उन्होंने देश के महात्वाकांक्षी जिलों के विकास के लिए इस तरह के और एप विकसित करने की बात कही थी। प्रधानमंत्री ने कहा था जो जिले तेजी से उपग्रेड हो रहे हैं वे उन जिलों में एक दिन गुजारेंगे। यानी पीएम मोदी भविष्य में एक दिन बांका में समय गुजारेंगे।

BANKA UPGRADE APP क्या हैं ? शिक्षा के प्रसार के समर्पित  इस एप को डीएम कुंदन कुमार के सहयोग से दिल्ली चार आइआइटियंस ने विकसित किया है। इस एप के जरिये कोई छात्र दसवीं, बारहवीं, एसएससी, बैंक पीओ, सिविस सर्विसेज, आइआइटी और दूसरी प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर सकता है। इस एप से 56 विशेषज्ञ शिक्षक जुड़े हुए हैं। छात्रों को सवाल पूछने के लिए पहले ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराना होगा। छात्रों के सवाल का विशेषज्ञ शिक्षक ऑनलाइन जवाब देते हैं।

देश के जिलाधिकारियों की बैठक में जब BANKA UPGRADE APP की तारीफ हुई तो तमिलनाडु ने भी इसमें दिलचस्पी दिखायी। अब तमिलनाडु भी BANKA UPGRADE APP से जुड़ेगा।

बांका के जिलाधिकारी कुंदन कुमार की कोशिशों ने अब रंग दिखाना शुरू कर दिया है। बांका अपग्रेड एप की वजह से मशहूर IT कंपनी, टाटा कंल्टेंसी सर्विसेज (TCS) बांका आयी। कपंनी ने बांका में 25 दिनों का इप्लोयबिलिटी ब्रिज प्रोग्राम (employability bridge and placement program) चलाया। इसके लिए 50 छात्रों ने बांका अपग्रेड एप पर रजिस्टेशन कराया था। इनको IT से जुड़े शॉर्ट टर्म कोर्स की जानकारी दी गयी।

तीन चरणों की कठिन परीक्षा के बाद कुल 17 छात्र-छात्राओं का चयन किया गया जिन्हें कॉरपोरेट कंपनी में जॉब ऑफर किया गया है। गांव- देहात के 17 नौजवान अब देश के नामी IT  कपंनी में नौकरी करेंगे। नक्सल प्रभावित बांका जिले के लिए इससे अच्छी कोई दूसरी खबर नहीं हो सकती। इस कामयाबी के उत्साहित TCS अब बांका में 18 जनवरी से एक और ट्रेनिंग प्रोग्राम शुरू करने वाला है।

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।
comments