अब नहीं होगी बिहार में बालू की कमी, सरकार ने सभी घाटों को खोला, जितना मर्जी उतना खरीदिए

अब नहीं होगी बिहार में बालू की कमी, सरकार ने सभी घाटों को खोला, जितना मर्जी उतना खरीदिए

By: Sudakar Singh
January 09, 08:01
0
..............

Patna : राज्य में तीन-चार महीने से चल रहा बालू का संकट सोमवार को खत्म हो गया। राज्य सरकार के निर्देशानुसार नये सिरे से बालू घाटों को बालू उठाव के लिए खोल दिया गया है। ई-टेंडरिंग के माध्यम से पात्रता वाले लोगों या कंपनियों को घाट दिया गया है। सरकार के आदेश लगभग सभी घाटों तक देर शाम तक पहुंच गये। उम्मीद है कि मंगलवार से उठाव पहले की तरह होने लगेगा। 


सारी प्रक्रिया पुरानी बालू नीति के अनुसार ही होगी। पहले की तरह ही सरकारी चालान कटेगा। बालू का सरकारी चालान का रेट 900 रुपए प्रति 100 क्यूबिक फुट होगा। उन सभी वाहनों को बालू मिलेगा जिनमें जीपीएस और ई-लॉक लगा हुआ है। आने वाले वक्त में ट्रैक्टर सहित उन सभी खुले वाहनों से ई-लॉक वापस ली जाएगी। इससे बालू ढोने वाले वाहनों को और राहत मिलेगी।  

पुराने नियम से फिर से बालू की बिक्री रियल एस्टेट को नई सांस देगी। राज्य में पिछले छह महीने से रियल एस्टेट का कारोबार ठप होने के कगार पर था। निजी भवनों के निर्माण के साथ कई विकास योजनाएं भी बालू के अभाव में कछुए की चाल से चल रही थीं। आसपास के राज्यों से बालू की बिक्री हो रही थी, लेकिन मांग के अनुसार वह अपर्याप्त था। बिहार में हर दिन औसतन ढाई लाख ट्रक बालू उठाव होता था, लेकिन नई नीति के बाद बालू का उठाव ठप हो गया। बाहर से मुश्किल से पांच हजार ट्रक बालू की सप्लाई हो पा रही थी। 
 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।
comments