भोजपुरी के उत्थान के लिये जो भी होगा करने के लिए तैयार हूं- शारदा सिन्हा

  • 03 Dec, 2016
  • Basu mitra

SIWAN: रघुनाथपुर प्रखंड के पंजवार में आखर परिवार द्वारा 7 वें भोजपुरिया स्वाभिमान सम्मेलन की मुख्य अतिथि सुप्रसिद्ध लोकगायिका पद्मश्री शारदा सिन्हा ने भोजपुरी भाषा में बढ़ रही अश्लीलता पर अपनी चिंता व्यक्त की।

पहली बार पंजवार पहुंची शारदा सिन्हा ने भोजपुरी के प्रति अपने दर्द को लोगों के साथ शेयर किया। शारदा सिन्हा ने कहा कि भोजपुरी के उत्थान के लिये जो भी होगा करने के लिए तैयार हूं। चाहे वो दिल्ली तक अनशन हो या कुछ और।जब कभी लोगों को मेरी जरूरत होगी में उस समय उन्हें तैयार मिलूंगी। उन्होंने बताया कि भोजपुरी को संविधान के आठवी अनुसूची में शामिल कराना व हमारे मातृभाषा से अश्लीलता समाप्त करना भोजपुरिया समाज का एकमात्र उद्देश्य है।
आज भोजपुरी में अश्लीलता के कारण के लोगों का रुझान भोजपुरी गानों के प्रति कम हुआ है। पहले भोजपुरी भाषा के गानों में मीठास थी। हमारे ज़माने के गीत आज भी युवा काफी पसंद कर रहे हैं।आखर द्वारा आयोजित भोजपुरिया स्वाभिमान सम्मेलन के सातवें सम्मेलन मे बातौर मुख्य अतिथि पद्म श्री शारदा सिंहा अपने पति, पुत्र सहित सपरिवार पहुंची हुई हैं। श्रीमति सिन्हा ने कहा कि पंजवार आना मेरा सौभाग्य है।यहाँ की मिट्टी और भोजपुरी की मिठास की देन है कि मैं मुख्य अतिथि के रूप में यहाँ न सिर्फ मैं बल्कि मेरा पुरा परिवार भी खींचा चला आया।
 

Leave A comment

यह भी देखेंView All