श्रद्धा, आस्था, विश्वास और एकता का अद्भुत नजारा, उमड़ पड़े श्रद्धालु

  • 05 Jan, 2017
  • priti singh

PATNA: गुरु गोविंद सिंह महाराज के 350वें प्रकाश उत्सव ने पटना को बदल कर रख दिया है। देश-विदेश से आए तीन लाख लोगों के श्रद्धा भाव और इतने ही स्थानीय लोगों के सेवा भाव ने पूरे माहौल को उत्सवी बना दिया है।

बिहारवासियों की सहभागिता ने पुलिस और प्रशासन की तैयारियों को पुख्ता कर दिया है। श्रद्धालुओं में उत्सव का जुनून है तो पटना के लोगों में सेवा का जुनून। गांधी मैदान से तख्तश्री हरमंदिर साहिब तक यानी 15 किमी में नजारा पंजाब सा है।
वाहे गुरु सतनाम की धुन। जी आया नूं के साथ उनकी आगवानी करते पटनावासी। सर्वधर्म सद्भाव का इतना विशाल नजारा विरले दिखता है। पटना के लोगों के लिए यह जीवन में पहली बार जैसा नजारा है।
बड़ी प्रभातफेरी का आयोजन मंगलवार को हुआ। बुधवारको विशाल नगर कीर्तन का आयोजन किया गया। इसने पटना के लिए नया इतिहास गढ़ दिया। इतना भव्य आयोजन लोगों ने पहली बार देखा।
आज प्रमुख आयोजन है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई बड़ी शख्सियत पटना पधार रहे हैं।  राजधानी में 35 जगहों पर श्रद्धालुओं के ठहरने की नि:शुल्क व्यवस्था की गई है।
इन्हें एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए 227 बसें नि:शुल्क चलाई जा रही हैं। सरकार ने 200 करोड़ का बजट रखा, मगर यह दोगुना हो जाए तो अचरज नहीं। और तो और गुरु के दरबार में मत्था टेकने के लिए जितने सिख रहे हैं, उतने ही अन्य धर्मों के लोग भी।
पटना साहिब में रिकार्ड 11 महीने में 81 कमरों का सेवन स्टार सुविधाओं वाला रेस्टहाउस बना दिया गया। समय पर काम पूरा करने की बड़ी जिद थी यह। बुधवार का आयोजन बता रहा था कि ये श्रद्धा, आस्था, विश्वास और एकता का अद्भुत उत्सव है।

 

Leave A comment

यह भी देखेंView All