'BIHAR के लोग पूरे विश्व में कई क्षेत्रों में अद्भुत कार्य कर रहे हैं'

  • 05 Jan, 2017
  • Shashank Kumar

पटना: मंदिर नहीं बने तो ठीक। लेकिन, सभी को दो-तीन वर्षों तक हर घर शौचालय बनाने की मुहिम चलानी होगी।

हमें मेडिटेशन के साथ सैनिटेशन की भी जरूरत है। बिहारी पूरे विश्व में कई क्षेत्रों में अद्भुत कार्य कर रहे हैं। अब बिहार से ही शौचालय निर्माण की क्रांति जगेगी। ये बातें चिदानंद सरस्वती ने होटल चाणक्या के दरबार हाल में आयोजित सर्वधर्म स्वच्छता व सद्भावना संकल्प समारोह में कहीं। उन्होंने कहा कि धर्म गुरु अपने-अपने तरीके से लोगों को उपासना का मार्ग बताते हैं। लेकिन, अब समय आ गया है कि धर्म गुरु अपने मठ-मंदिरों से लोगों को स्वच्छता का पाठ भी पढ़ाएं। कार्यक्रम के दौरान राज्य भर में स्वच्छता को लेकर काम करनेवाली संस्थाओं को पौधा देकर सम्मानित किया गया।  
सर्वधर्म सम्मेलन में स्वर्ण मंदिर अकाल तख्त के प्रमुख ग्रंथी गुरुबचन सिंह ने कहा कि लोगों को वोट की राजनीति में धर्म के आधार पर वोट मांगना गलत है। हमें आपसी मतभेद से ऊपर उठ कर देश के लिए स्वच्छता को अपनाना चाहिए। सरकार गंदगी करनेवाले पर जुर्माना लगाने का प्रावधान भी करे। वहीं, पटना साहिब के प्रमुख ग्रंथी इकबाल सिंह ने गुरु गोबिंद सिंह की 350वीं जयंती पर राज्य सरकार व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की प्रशंसा की। साथ की इमाम उमर इलियास ने स्वच्छता पर बल देने की बात कहीं। जैन मुनि लोकेश आचार्य ने चिदानंद सरस्वती के कार्यों की पूरी प्रशंसा की और कहा कि संत बगिया के फुल है। पत्रकारों को इसके कार्यों को हवा की तरह फैलाना चाहिए। बुद्धिस्ट लामा लोप जंजी, साध्वी भगवती, सुषमा अग्रवाल, फुलवारीशरीफ के इमाम व यूनिसेफ के बिहार प्रमुख रहमान आदि मौजूद थे।

Leave A comment

यह भी देखेंView All