'गुरु गोबिंद सिंह जी की जीवनी से प्रेरणा लेकर खुशहाल समाज बनायेंगे'

  • 06 Jan, 2017
  • Shashank Kumar

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार ने कहा कि बिहार में विभिन्न धर्मों की ह्दय स्थली है।

इसका सबसे बड़ा उदाहरण है कि एक तरफ दशमेश पिता साहेब-ए-कमाल गुरु गोबिंद सिंह जी महाराज का प्रकाश पर्व मनाया जा रहा है, तो दूसरी तरफ बोधगया में 24वां कालचक्र पूजा का आयोजन किया जा रहा है। यह दोनों कार्यक्रम बिहार के लिए गौरव के विषय हैं। 
उन्होंने कहा कि इसी वर्ष बापू के चंपारण आंदोलन का 100वां साल है। उन्होंने कहा कि गुरु गोबिंद सिंह जी ने मानवता की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व अर्पण कर दिया। वह एक महान संत, सिपाही, श्रेष्ठ  विद्वान, दया और त्याग की प्रतिमूर्ति थे। 42 वर्ष की उम्र में ही उन्होंने ऐसे कार्य कर दिये, जो किसी चमत्कार से कम नहीं है।
 
गुरुजी ने दलित और  वंचित लोगों की रक्षा करने के लिए वीरों की अतुलनीय सेना तैयार की थी। उनके द्वारा स्थापित खालसा पंथ भाईचारे की मिसाल है। उन्होंने कहा कि गुरु गोबिंद सिंह जी की जीवनी से प्रेरणा लेकर खुशहाल समाज बनायेंगे। देश में प्रेम का संदेश फैलेगा। 

Leave A comment

यह भी देखेंView All