बिहारी व्यंजन: हरी मिर्च-राई का अचार

  • 09 Jan, 2017
  • priti singh

PATNA: हरी मिर्च का अचार लोगों को काफ़ी अच्छा लगता है। खासकर जो तीखा खाते हैं उन्हें तो ये अचार बहुत पसंद आता है। राई डालकर बनाया जाने वाला हरी मिर्च का अचार बहुत स्वादिष्ट बनता है। हरी मिर्च को कई तरह से खाया जाता है।

हरी मिर्च ना सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ाती है। बल्कि इसे अचार के रूप में भी लोग खाना पसंद करते हैं। लोग हरी मिर्च की चटनी बनाकर लेना भी पसंद करते हैं।
हरी मिर्च के कई गुण हैं। शायद इसलिए हरी मिर्च को चटनी बनाने में खास इस्तेमाल किया जाता है। दरअसल, हरी मिर्च में एक खास तरह का एलीमेंट ‘कैप्सिन’ पाया जाता है।
इसको खाने से शरीर के सभी चैनल्स खुल जाते हैं। अगर हमारे चैनल्स ब्लॉक हो जाएं तो उसकी वजह से कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं।
कम ही लोगों को पता होगा कि हरी मिर्च खाने से भूख बढ़ जाती है। हरी मिर्च खाने से पाचन शक्ति बढ़ती है और डायजेशन इंप्रूव होता है।
सामान
• हरी मिर्च अचार वाली - 250 ग्राम
• राई या काली सरसों - 4 टेबल स्पून
• नमक - 3 छोटी चम्मच
• जीरा - एक छोटी चम्मच
• सोंफ - 1 छोटी चम्मच
• मैथी - एक छोटी चम्मच
• हींग - 1/4 छोटी चम्मच से कम
• हल्दी पाउडर - एक छोटी चम्मच
• गरम मसाला - आधा छोटी चम्मच
• नीबू या सिरका - 2 टेबल स्पून रस
• तेल - 4 टेबल स्पून

बनाने की विधि
इस अचार को हम 2 तरीकों से बनाएंगे
1. मिर्च को भर कर
2. मिर्च को काट कर
भरवां मिर्च का अचार
मिर्च के अचार के लिए हम पकी हुई मिर्च का इस्तेमाल करते हैं। हरी मिर्च को धो कर सुखा लें। इनके डंठल तोड़ कर अलग कर दें और इन्हें कपड़े से पोंछ लें। अब मिर्चों में उपर से नीचे तक एक तरफ चीरा लगाएं। लेकिन मिर्चें एक तरफ से जुडी़ रहनी चाहिए।
गरम तवे पर जीरा, मेथी,सौंफ़ और सरसों को डाल कर हल्का सा भून कर गैस बंद कर दें। अब सारे भूने मसाले को मिक्सी में दरदरा पीस लें। इसमें हल्दी, नमक और गरम मसाला मिला कर अलग बर्तन में निकाल लें।

अब एक कढा़ई में तेल को तेज़ गरम करें और फिर गैस को बंद कर दें। तेल को हल्का ठंडा कर लें। इसमें हींग डाल दें। भुने मसाले में नींबू का रस मिलाकर उसे भी तेल में मिला लें।
एक मिर्च लेकर तैयार किया मसाला उसमें भर दें। बाकी मिर्चों को भी इसी तरह मसाले से भर लें। सारी भरी हुई मिर्चों को एक अलग प्लेट में रख लें। बाकी बचा मसाले वाला तेल भी इनके उपर ही डाल दें।

भर कर तैयार की मिर्चों को किसी पतले कपडे़ से ढक कर धूप में रख दें। धूप ना होने पर इन्हें कमरे के अंदर ही रख दें। ये आचार 3-4 दिन में बन कर तैयार हो जाएगा। इसे दिन में 2-3 बार सूखे चम्मच से उपर नीचे ज़रूर कर दें।

राई वाली भरवीं मिर्च का आचार तैयार है। आचार को चीनी मिट्टी या कांच के कंटेनर में भर लें और जब चाहे खाएं। कटी हुई मिर्च का आचार खाने में काफ़ी आसानी होती है। बार-बार मिर्च को तोड़ने की ज़रूरत नहीं पड़ती। आराम से मिर्च के टुकड़े उठाओ और खा लो।

मिर्चों को धोकर सूखा लें। इनके डंठल तोड़ कर इन्हें कपडे़ से साफ़ कर लें। अब सारी मिर्चों को छोटा-छोटा काट लें। एक प्याले में मिर्चें डाल कर इनमें नमक, हल्दी और नींबू का रस डाल कर मिला लें।
इस प्याले को ऎसे ही ढक कर सारे दिन के लिए रख दें। 5-6 घंटे बाद मिर्चों को सुखे चम्मच से हिला दें। अब गरम तवे पर जीरा और मेथी डाल कर हल्का सा भून लें और फिर हींग डाल कर गैस बंद कर दें।
अब राई, जीरा, हींग और मेथी को मिक्सी में बारीक पीस लें। इसमें नमक, हल्दी और गरम मसाला भी मिला दें।मसाले को किसी डोंगे में निकाल कर उसमें आधा छोटी चम्मच हल्दी और आधा छोटी चम्मच नमक मिला लें। इससे मसाले में स्वाद और रंग आ जाएगा।
प्याले में रखी मिर्च पर ये सारा मसाला डालें और उपर से तेल डाल कर अच्छे से मिला दें। चाहें तो इस प्याले को पतले कपडे़ से ढक कर धूप में रख दें या चाहें तो कमरे में ही रख लें। इसे दिन में 2-3 बार सूखे चम्मच से हिलाते रहें। 3-4 दिन में ये अचार बन कर तैयार हो जाएगा।
अचार को कांच या चीनी मिट्टी के कंटेनर में भर लें। जब चाहें खाएं। ये आचार 15-20 दिन तक ही चलता है। अगर आप इसे ज़्यादा चलाना चाहते हैं तो इसे नींबू के रस या सरसों के तेल में डूबा कर रखें और साल भर खाएं।
 
 

Leave A comment

यह भी देखेंView All