PMCH समेत तीन मेडिकल कॉलेजों में सुपरस्पेशियलिटी सेंटर

  • 11 Jan, 2017
  • Manish Pandey

PATNA : सूबे के तीन मेडिकल कॉलेजों में गंभीर बीमारियों के उपचार के लिए सुपर स्पेशियलिटी सेंटर बनाया जाएगा।

ये सेंटर प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत पीएमसीएच, जेएनएमसीएच भागलपुर और एएनएमएमसीएच गया में बनाया जाएगा। सेंटर निर्माण को लेकर गुरुवार को नई दिल्ली में बैठक होगी। इससे पूर्व डीएमसीएच दरभंगा व एसकेएमसीएच मुजफ्फरपुर में सुपर स्पेशियलिटी सेंटर बनाने के लिए चयन किया जा चुका है।
सुपर स्पेशियलिटी सेंटर में न्यूरोलॉजी, न्यूरो सर्जरी, नेफ्रोलॉजी, कार्डियोलॉजी, कार्डियोथेरेसिक, बर्न एवं प्लास्टिक सर्जरी तथा आंकोलॉजी विभाग एक ही भवन में होंगे। भवन में गंभीर मरीजों के लिए ओपीडी और वार्ड भी बनाया जाएगा। चार मंजिले भवन के लिए पटना, गया और भागलपुर में स्थल चयन करने को कहा गया है। गुरुवार को मेडिकल कॉलेजों के प्राचार्य या अधीक्षकों को नई दिल्ली बुलाया गया है, जहां योजना के तहत मिलने वाली राशि एवं सुविधाओं के बारे में जानकारी दी जाएगी। प्रत्येक सेंटर के लिए लगभग 17 करोड़ रुपए आवंटित किए जाएंगे। डीएमसीएच और एसकेएमसीएच में सेंटर के लिए राशि भी आवंटित हो गई है। इन सेंटरों का चयन योजना के तृतीय चरण में किया गया था, जबकि पटना, गया और भागलपुर में चौथे चरण में चयन हुआ है। पीएमसी के प्राचार्य प्रो एसएन सिन्हा ने बताया कि अस्पताल में स्थल का चयन कर लिया गया है। नई दिल्ली में होने वाली बैठक के बाद इस दिशा में काम शुरू किया जाएगा।
सूबे के हर पीएचसी में गर्भनिरोधक डीएमपीए इंजेक्शन नि:शुल्क लगाया जाएगा : सूबे के हर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (पीएचसी) में गर्भनिरोधक डीएमपीए इंजेक्शन नि:शुल्क लगाया जाएगा। अप्रैल से यह सुविधा सरकारी अस्पतालों में मिलने लगेगी। इंजेक्शन लगाने के लिए मेडिकल कॉलेजों के आठ प्रोफेसरों को कोलकाता में ट्रेनिंग दी जा चुकी है। इस माह से सौ डॉक्टरों को ट्रेनिंग शुरू की जा रही है। फरवरी में स्वास्थ्य मंत्रालय प्रदेश को इंजेक्शन उपलब्ध करा देगा।
मंत्रालय ने गर्भनिरोधक उपायों में पहली बार सरकारी अस्पतालों में डीएमपीए इंजेक्शन को शामिल किया है। पहले चरण में नौ मेडिकल कॉलेजों और 38 जिला अस्पतालों में इंजेक्शन लगेगा। एक इंजेक्शन तीन माह तक प्रभावी रहेगा। बिहार नौवां राज्य होगा जहां यह सुविधा दी जा रही है। राज्य कार्यक्रम अधिकारी डॉ निराला का कहना है कि अभी निजी अस्पतालों में ही इंजेक्शन मिलता था, जिसे लगवाने के लिए महिलाओं को काफी राशि खर्च करनी पड़ती थी। अब यह नि:शुल्क मिलेगी।
 

Leave A comment

यह भी देखेंView All