बेटियों के साथ छेड़खानी से परेशान बाप ने कहा, करेंगे आत्महत्या

  • 11 Jan, 2017
  • Basant kumar

PATNA : स्कूल जाने के दौरान लफंगों द्वारा बेटियों के साथ की जाने वाली छेड़खानी से परेशान पिता ने परिवार समेत जान देने की बात की है।

मामला प्रदेश के भागलुपर जिले के नाथनगर का बताया जा रहा है। स्कूल जाने के दौरान मनचलों द्वारा छात्राओं से छेड़खानी की घटनाओं से परेशान दो छात्राओं के पिता ने अपना दर्द बयां करते हुए कहा है कि यदि उनकी बेटियों के साथ छेड़खानी की घटना बंद नहीं हुई तो वह पूरे परिवार समेत आत्महत्या कर लेगें। उधर पुलिस इस मामले को आपसी विवाद बता रही है।
भागलपुर एसएसपी का कहना है कि छात्राओं के साथ छेड़खानी की कोई घटना नहीं हुई है, यह दो पड़ोसियों के बीच जमीन विवाद का मामला है। एसएसपी ने बताया कि दोनों पक्षों के खिलाफ पहले ही 107 के तहत निरोधात्मक कार्रवाई की जा चुकी है। घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि ललमटिया थाना क्षेत्र के पीपरपांती के एक व्यक्ति का आरोप है कि पिछले दो साल से उनकी बेटियों को पड़ोस में रहने वाला दीपक नाम का लड़का परेशान कर रहा है। स्कूल जाने के लिए जब उसकी बेटियां घर से निकलती हैं तो वह अपने दोस्तों के साथ स्कूल तक पीछा करता है और भद्दे कमेंट करता है। पुलिस इस ममाले में कार्रवाई नहीं की तो वह परिवार के साथ आत्महत्या कर लेगा।
छात्राओं के पिता ने बताया कि दो साल पहले पड़ोस के ही बटेश्वर प्रसाद के घर भाड़े पर कुछ छात्र रहते थे, जो दीपक के दोस्त थे। वे छत पर से दोनों बेटियों पर फब्तियां कसते थे। लोगों की मदद से लॉज खाली कराया गया। उसके बाद से ही दीपक हाथ धोकर उनके पीछे पड़ा है। घर में ईंट-पत्थर आदि भी फेंकता है। दीपक के पिता प्रसादी मंडल ने पुलिस से मिलकर उन पर झूठा मुकदमा भी करा दिया। उसकी एक बेटी नौवीं और एक दशमी में पढ़ती है। मार्च में मैट्रिक की परीक्षा है। मगर मनचलों के आतंक से बेटियों ने स्कूल जाना बंद कर दिया।
उधर छेड़खानी का आरोपी दीपक का कहना है कि उस पर लगाये गये सभी आरोप झूठे हैं। यह मामला जमीन विवाद से जुड़ा है। उसका घर गोराडीह कासिमपुर है। वहां से जमीन बेचकर पीपरपांती में जमीन खरीदकर घर बनवाया है, जो छात्रा के पिता को मंजूर नहीं है।
वहीं स्कूल प्रशासन का कहना है कि इस इलाके में छेड़खानी का मामला होता है। जिसकी वजह से कई छात्राएं स्कूल नहीं आती है। स्कूल प्रशासन की माने तो मामला सिर्फ पीपरपांती के दो बहनों की ही नहीं है। ऐसी कई लड़कियां हैं, जिन्होंने मनचलों से परेशान होकर स्कूल आना बंद कर दिया है।
 

Leave A comment

यह भी देखेंView All