CM बताएं प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी तो फिर उत्पादन क्यों?

  • 11 Jan, 2017
  • Basant kumar

PATNA : पूर्व उपमुख्यमंत्री व भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने सीएम नीतीश पर जोरदार हमला बोला है। सुमों ने कहा है कि क्या 21 जनवरी से पहले शराब फैक्ट्रियों को बंद करेगी सरकार।

वहीं उन्होंने कहा है कि बिहार की जनता मुख्य़मंत्री जानना चाहती है कि प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी लागू है तो शराब की फैक्ट्रियां क्यों चल रही है। कर मुक्त शराब का उत्पादन क्यों जारी है। पूर्ण शराबबंदी के बावजूद प्रतिदिन हजारों लीटर शराब क्यों पकड़ी जा रही है।
पूर्व उपमुख्यमंत्री ने प्रदेश में आये दिन पकड़ी जाने वाली शराब को लेकर कहा कि सरकार को बताना चाहिए कि शराब माफियाओं के हौसले इतने बुलंद क्यों है कि वे पुलिस पर हमला करने तक की हिमाकत कर रहे हैं। सुमों ने कहा कि शराबबंदी के तालिबानी कानून में संशोधन के लिए बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में जो राय आई थी, एक महीना से अधिक समय गुजर जाने के बावजूद उन पर कौन सी कार्रवाई हुई है।
उन्होंने कहा है कि जब बिहार में पूर्ण शराबबंदी है तो यहां की तीन बीयर व 12 विदेशी शराब फैक्ट्रियों के आज तक चलने का क्या औचित्य है। इन फैक्ट्रियों को निर्यात शुल्क व बॉटलिंग फी में छूट देकर सस्ती शराब के उत्पादन को बढ़ावा क्यों दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शराब उद्योग की अनुज्ञप्ति के नवीनीकरण और यहां से शराब तैयार कर दूसरे राज्यों में भेजने का क्या औचित्य है।
सुमों ने कहा कि  शराब के कारोबार को अनैतिक बताने वाले मुख्यमंत्री बिहार में शराब निर्माण को पूरी तरह से प्रतिबंधित क्यों नहीं कर रहे हैं। पूरे गांव पर सामूहिक जुर्माना, परिवार के सभी वयस्क सदस्यों को जेल, शराब की खाली बोतल मिलने पर भी परिसर को जब्त करने जैसे सजा के कठोर तालिबानी प्रावधानों के बावजूद सरकार 30 प्रतिशत शराबबंदी भी क्यों नहीं लागू करा पाई है।
 

Leave A comment

यह भी देखेंView All