बालू उठाव को लेकर दो गुटों में हो सकती है खूनी संघर्ष

  • 12 Jan, 2017
  • Amitesh kumar
  • Roshan Kumar Jha

RAMGARH : दामोदर नदी में इन दिनों बालू उठाव को लेकर तिवारी महतो व आनंद दुबे के बीच कुछ दिनों से लगातार आपसी खींचतान चल रही है। इस कारण कभी भी बड़ी घटना घट सकती है।

बालू उठाव में लगे ट्रेक्टर संचालकों ने बताया कि नदी में बालू उठाव के क्रम में भारी समस्या आ रही है। जब वे बालू उठाने जाते हैं तो तिवारी महतो द्वारा उनसे चलान कटवाने की बात कही जाती है, जबकि अपना हक जताते हुए आनंद दुबे का कहना है कि उनके द्वारा चालान कटवाने के बाद ही बालू उठाव करने दिया जाएगा। चालान के रूप में 500 रूपए मांगे जाते हैं। जबकि जमीन से गुजरने पर जमीनी हक के रूप में मालिक द्वारा 150 रूपए प्रति ट्रेक्टर मांग की जाती है। इस आपसी खींचतान के कारण हफ्ते भर से बालू उठाव का कार्य नहीं कर पा रहे हैं। ऐसे में उनकी कमाई का रास्ता पुरी तरह से बंद हो गया है। मुश्किल से वाहन की किस्ती भी नहीं निकल पा रही है। अगर समय रहते आपसी विवाद नहीं सुलझ पाता है तो उनके सामने भुखे मरने की नौबत आ जाएगी।
क्या कहते है माइनिंग अधिकारी
संबध में माइनिंग अधिकारी ने बताया कि इस बाबत उन्हें कोई जानकारी नहीं है। यदि ऐसा वाक्या है तो वे दोनो पक्षों के कागजातों की जांच कर ही बता पाएंगे की बालू का लीज किसके पास है। 
क्या कहते हैं थाना प्रभारी
संबध में ओपी प्रभारी अर्जुन उरांव ने बताया कि जिसके पास लीज का पेपर है वह अपना काम शांतिपूर्ण कार्य करें यदि किसी भी सूरत में शांति व्यवस्था भंग होती है तो वे कानूनी कारवाई करने को बाध्य होंगे।

Leave A comment

यह भी देखेंView All