मानव श्रृंखला की होगी सेटेलाइट फोटोग्राफी, 1 घंटे पहले रोक दी जाएगी ट्रैफिक

  • 12 Jan, 2017
  • priti singh

PATNA: शराब मुक्त बिहार के लिए 21 जनवरी को 11 हजार 292 किलोमीटर में बनने वाली राज्यव्यापी मानव श्रृंखला की सेटेलाइट फोटोग्राफी के लिए इसरो की टीम पटना पहुंच गई है।

इसरो के कोलकाता और हैदराबाद केंद्रों के 5 सदस्य दो दिनी यात्रा पर पटना पहुंचे हैं। इसरो के प्रतिनिधियों की ये यात्रा मानव श्रृंखला और उसके भौगोलिक नक्शे को समझने को लेकर है।
मंगलवार को शिक्षा सचिव जीतेन्द्र श्रीवास्तव संग बैठक कर इसरो के वैज्ञानिकों ने मानव श्रृंखला के बाबत विस्तृत जानकारी ली। इस दौरान मानव श्रृंखला के नोडल शिक्षा विभाग के जनशिक्षा निदेशालय के निदेशक डॉ. विनोनानंद झा व सहायक निदेशक मो. गालिब भी मौजूद रहे।
मो. गालिब ने बताया कि बुधवार को इसरो का यह दल गांधी मैदान जाकर मानव श्रृंखला स्थल का निरीक्षण करेगा। सेटेलाइट फोटोग्राफी के हिसाब से दल के सदस्य अन्य जरूरतों को भी समङोंगे। सुबह मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह के साथ बैठक भी करेंगे।
शराब मुक्त बिहार के लिए 21 जनवरी को बनने वाली मानव श्रृंखला के दौरान ट्रैफिक बंद रहेगा। एक घंटे पहले गाड़ियों की आवाजाही रोक दी जाएगी। कार्यक्रम के दौरान सड़कों पर होने वाली भीड़ को देखते हुए यह कदम उठाया जाएगा।
मानव श्रृंखला की तैयारियों के मद्देनजर राज्यभर में यातायात प्रबंधन को लेकर डीजीपी पीके ठाकुर ने मंगलवार को विडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर अधिकारियों से चर्चा की। डीजीपी के साथ मुख्यालय के आला पुलिस अधिकारी थे, वहीं विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जोनल आईजी, रेंज डीआईजी और सभी जिलों के एसपी जुड़े थे।
डीजीपी ने तमाम अधिकारियों के साथ यातायात प्रबंधन पर चर्चा की और उन्हें आवश्यक इंतजाम करने के निर्देश दिए। सूत्रों के मुताबिक मानव श्रृंखला के तय समय से करीब घंटेभर पहले वाहनों का परिचालन रोक दिया जाएगा।
इसके लिए तय स्थानों पर वाहनों को रोकने की व्यवस्था होगी। हालांकि आपातकालीन सेवा जारी रहेगी। जरूरत पड़ी तो इसके लिए वैकल्पिक व्यवस्था की जाएगी। मानव श्रृंखला के खत्म होने के तुरंत बाद ट्रैफिक व्यवस्था शुरू नहीं होगी।
भीड़भाड़ कम होने के बाद ही वाहनों का परिचालन शुरू किया जाएगा। ट्रैफिक व्यवस्था में फेरबदल के चलते लोगों को कम से कम दिक्कत हो इसके लिए पहले से प्रचार-प्रसार किया जाएगा।
विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के संबंध में पूछे जाने पर डीजीपी पीके ठाकुर ने कहा कि यातायात प्रबंधन को लेकर अधिकारियों के साथ चर्चा की गई। शराबबंदी पर भी चर्चा : विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान यातायात प्रबंधन के अलावा कुछ अन्य ¨बदुओं पर चर्चा हुई। इसमें शराबबंदी भी शामिल है।
शराबबंदी के बाद उत्पाद अधिनियम के तहत दर्ज मामलों में हुई कार्रवाई और दूसरे ¨बदुओं पर आईजी, डीआईजी और एसपी से बात हुई। डीजीपी ने शराब के धंधे में लिप्त लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए।
राष्ट्रीय सामाजिक न्याय मोर्चा शराबबंदी के समर्थन में बनने वाली मानव श्रृंखला में भाग लेगा। मोर्चा के राष्ट्रीय महासचिव नीलमणि पटेल ने ये जानकारी दी। कहा कि साथ ही देश में शराबबंदी लागू करने के लिए प्रधानमंत्री को ज्ञापन भी सौंपेगा।
 

Leave A comment

यह भी देखेंView All