'शराबबंदी के बाद से बिहार में अपराधिक घटनाओं में कमी आयी है'

  • 12 Jan, 2017
  • Shashank Kumar

पटना : जदयू के मुख्य प्रवक्ता और विधान पार्षद संजय सिंह ने कहा कि पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी को शराबबंदी कानून समझा में नहीं आ रहा है।

उन्होंने कहा कि इसके पक्ष में 21 जनवरी को जो मानव शृंखला बनने जा रही है उससे विश्व रिकार्ड बनेगा और सुशील मोदी का भ्रम टूट जायेगा। उन्होंने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्र सरकार से यह मांग की है कि पूरे देश में शराबबंदी होनी चाहिए।  
लेकिन, ऐसा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नहीं कर सकते हैं। क्योंकि, कोई भी फैसला लेने के लिए हिम्मत की जरूरत होती है, जो पीएम नरेंद्र मोदी के पास नहीं है। सिंह ने कहा कि शराबबंदी के बाद राज्य में एक अप्रैल, 2016 से  बीते वर्ष के मुकाबले आपराधिक घटनाओं में कमी आयी है। हत्या, लूट, डकैती समेत अन्य संगीन अपराध कम हुए हैं। शराबबंदी का असर अपराध की घटनाओं पर पड़ा है।  
 
बिहार में संज्ञेय अपराध में छह प्रतिशत की कमी आयी है। वहीं, सड़क दुर्घटनाओं में 20 प्रतिशत, हत्या में 24 प्रतिशत, डकैती में 26 प्रतिशत, लूट में 19 प्रतिशत, दंगा में 19 प्रतिशत, फिरौती के लिए अपहरण में 42 प्रतिशत, बलात्कार में छह प्रतिशत, अनुसूचित जाति/-जन जाति से संबंधित अपराधों में नौ प्रतिशत की कमी आयी है। 

Leave A comment

यह भी देखेंView All