भाई के श्राद्ध कर्म में शामिल होने आयी बहन की दर्दनाक मौत, माहौल गमगीन

भाई के श्राद्ध कर्म में शामिल होने आयी बहन की दर्दनाक मौत, माहौल गमगीन

By: Sudakar Singh
January 12, 01:01
0
..............

Bhagalpur : अपने बड़े भाई के श्राद्ध कर्म में शामिल होने आयी बहन की दर्दनाक मौत ने घर का माहौल और गमगीन बना दिया। घटना सजौर हाट की है। मुंगेर सदर अस्पताल में लैब टेक्निशियन के पद पर तैनात किरण कुमारी (50) अपने बड़े भाई श्यामसुंदन साह के श्राद्धकर्म में शामिल होने मंगलवार को सजौर आयी थी। बुधवार को श्राद्ध कर्म खत्म हो गया था।


गुरुवार की सुबह लगभग नौ बजे वह अपने दिवंगत भाई के मकान के बाहर खड़ी थी। नहाने के लिए बाथरूम जाने लगी तभी एक बंदर दूसरे के मकान से उनके मकान के दूसरे तल्ले के छज्जे पर कूद गया। बंदर के कूदने से छज्जा टूटकर किरण देवी के सिर पर गिर पड़ा जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गयी। किरण के सिर में गंभीर चोट आयी। इलाज के लिए उन्हें मायागंज अस्पताल लाया गया। सुबह लभग साढ़े 10 बजे डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।
किरण देवी मुंगेर के नौवागढ़ी की रहने वाली थी। उसके पति बिरेंद्र कुमार बेरोजगार हैं। पोस्टमार्टम के बाद शव ससुराल ले गये, मायके में मौत की बात छिपाई किरण कुमारी की मौत के बाद उनके शव का पोस्टमार्टम करा परिजन को सौंप दिया गया। किरण का शव लेकर परिजन उसके ससुराल नौवागढ़ी लेकर गये।


किरण की मौत की सूचना को कई घंटे तक उसके मायके के लोगों से छिपाने की कोशिश की गयी क्योंकि वहां पहले से मातम का माहौल था। लोग आपस में बात कर रहे थे कि जिस बहन को भाई ने गोद में खेलाया उसका श्राद्ध कर्म खत्म होते ही उसने भी दुनिया छोड़ दी। किरण देवी के चार बच्चें हैं। बड़ी बेटी सोनाली पटना में पॉलिटेक्निक थर्ड सेमेस्टर की छात्रा है। बाकी के तीनों बच्चे नौवागढ़ी में ही रहते हैं। उनकी एक बेटी छोटी उनके साथ ही सजौर आयी थी। 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।
comments