क्या है पायरिया, क्यों होती है दांतो की यह बीमारी

क्या है पायरिया, क्यों होती है दांतो की यह बीमारी

By: Abhijna verma
May 18, 10:05
0
PATNA : दांतों को सेहत और सुंदरता का आईना माना जाता है, लेकिन खानपान के बाद मुंह की साफ-सफाई में की जाने वाली कोताही दांतों के लिए बीमारी बन कर सामने आती है।

पायरिया ऐसी ही बीमारी है, जो आसानी से लोगों को अपना शिकार बना सकती है। अगर सही समय पर इसका इलाज न किया जाए तो यह साधारण सी लगने वाली बीमारी असाधारण तौर पर नुकसान पहुंचा सकती है।

क्या है पायरिया
दांतों की साफ-सफाई न करने के कारण पायरिया लोगों में होने वाली एक सामान्य बीमारी बन गई है। पायरिया के कारण असमय दांत गिर सकते हैं। पायरिया होने पर सांसों में तेज दुर्गंध आनी शुरू हो जाती है। मसूड़ों में सूजन होने लगती है। दांत कमजोर होकर हिलने लगते हैं। मसूड़ों को दबाने और छूने पर दर्द होता है। दो दांतों के बीच की जगह बढ़ जाती है। गर्म और ज्यादा ठंडा पानी पीने पर दांत संवेदनशील हो जाते हैं, जिसे कई बार लोग बर्दाश्त नहीं कर पाते।

क्यों होती है यह बीमारी
दांतों की सफाई में लापरवाही से पायरिया होता है। दरअसल मुंह में लगभग 700 किस्म के बैक्टीरिया होते हैं, जिनकी संख्या करोड़ों में होती है। यही बैक्टीरिया दांतों और मुंह को बीमारियों से बचाते हैं, लेकिन मुंह, दांत और जीभ की सफाई ठीक से न की जाए तो ये बैक्टीरिया दांतों और मसूड़ों को नुकसान पहुंचाते हैं। कैल्शियम की कमी पायरिया का मुख्य कारण है। पायरिया से दांतों को सहयोग करने वाली हड्डियों को नुकसान होता है।

मुमकिन है इलाज
दुनिया में सबसे ज्यादा लोगों को यह बीमारी होती है। पायरिया के बारे में एक गलत धारणा ये है कि इसका इलाज मुमकिन नहीं, जबकि इलाज पूरी तरह संभव है। पायरिया की वजह से हिलते दांतों को भी पक्का किया जा सकता है। 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।
comments