आ-तंकी हमले में शहीद हुआ बिहार के बेगूसराय का लाल, गांव में लगे पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे

PATNA : जम्मू कश्मीर में बिहार के एक और जाबांज बेटे ने देश की रक्षा के लिए शहादत दी है। आ-तंकियों से लोहा लेते हुए बेगूसराय ज़िले के जांबाज बेटे ने पराक्रम का परिचय देते हुए आ-तंकियों को खदेड़ दिया। लेकिन बुजदिल आतंकियों ने उनपर पीछे से वार कर दिया। इससे इंस्पेक्टर शहीद हो गए। शहीद पिंटू कुमार सिंह की शहादत से एक तरफ जहां परिवार के लोग गमजदा हैं वहीं पूरा गांव इस शहादत पर गर्व कर रहा है।

जानकारी के अनुसार, शुक्रवार की शाम करीब 7 बजे उत्तरी कश्मीर के बाबूगुंड हंदवाड़ा में सीआरपीएफ और आ-तंकियों के बीच मुठभेड़ हो गई। इस मुठभेड़ में 5 जवान शहीद हो गए हैं। शहीद होने वालों में बेगूसराय ज़िले के बखरी प्रखंड के राटन पंचायत अंतर्गत बगरस ध्यानचक्की गांव निवासी स्व चक्रधर प्रसाद सिंह के सबसे छोटे बेटे पिंटू कुमार सिंह भी शामिल हैं।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives, Live Bihar

सीआरपीएफ में इंस्पेक्टर पिंटू कुमार सिंह की शहादत की खबर शुक्रवार की शाम ही फेसबुक पर गांव वालों ने देख ली थी। लेकिन कंट्रोल रूम से इसकी पुष्टि नहीं हो रही थी। जब परिजनों ने कंट्रोल रूम को फोन किया तो पता चला कि 5 जवान शहीद हुए हैं, लेकिन अबतक उनकी सूची सामने नहीं आई है। बेचैन परिवार बीतते समय के साथ परेशान था। तभी रात 2:00 बजे कंट्रोल रूम ने बताया कि आपके बेटे पिंटू कुमार सिंह ने आतंकियों से लड़ते हुए देश के लिए अपनी जान न्यौछावर कर दी है। पिंटू की शहादत की खबर मिलते ही पूरे गांव में कोहराम मच गया। एक तरफ जहां लोग गांव के लाल पिंटू की शहादत से गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं। वहीं आंसुओं का सैलाब भी फूट पड़ा है।

शहीद पिंटू कुमार सिंह की पत्नी मायके में है। उनका मायका मुजफ्फरपुर ज़िले में है। अबतक पत्नी को यह मालूम नहीं है कि उनके जाबांज पति ने देश के लिए अपना जीवन न्यौछावर कर दिया है। परिजनों ने बताया कि पार्थिव शरीर आने पर पत्नी को यहां लाया जाएगा। पिंटू की शादी 2011 में हुई थी। उनकी एक 5 साल की बेटी पिहू कुमारी भी है। गांव के जांबाज बेटे की शहादत पर पूरा गांव भले ही गमगीन है, लेकिन मन में पाकिस्तान को लेकर बेहद गुस्सा भी है। शहादत की खबर सुनने के बाद शनिवार को ग्रामीणों ने तिरंगा जुलूस निकाला। जुलूस में सैकड़ों ग्रामीण शामिल थे।

हर तरफ पिंटू अमर रहे के नारे लग रहे थे तो वहीं पाकिस्तान मुर्दाबाद की गूंज भी सुनाई पड़ रही थी। ग्रामीणों ने एक सुर में कहा कि पाकिस्तान से बदला लो और हमें और कुछ नहीं चाहिए। मौके पर पूर्व मुखिया सरोजनी भारती,राजद के दिलीप यादव,नरेश पासवान ,जितेन्द्र जितू,पंकज पासवान आदि थे