मैट्रिक-इंटर परीक्षा के लिए बिहार बोर्ड जारी करेगा तीन-तीन एडमिट कार्ड, नहीं होगी कोई गड़बड़ी

मैट्रिक-इंटर परीक्षा के लिए बिहार बोर्ड जारी करेगा तीन-तीन एडमिट कार्ड, नहीं होगी कोई गड़बड़ी

By: Sudakar Singh
September 13, 09:20
0
......................

Live Bihar Desk : बिहार बोर्ड के छात्रों को अब एक नहीं बल्कि तीन-तीन एडमिट कार्ड दिए जाएंगे। एडमिट कार्ड में गड़बड़ी होने की कोई शिकायत ना आए इसको लेकर बोर्ड ने यह फैसला लिया है। इससे तकनीकी खामियों को रोका जा सकता है। बिहार बोर्ड अध्यक्ष आनंद किशोर ने कहा कि ऑरिजनल एडमिट कार्ड देने से पहले सभी छात्रों को दो बार डमी एडमिट कार्ड दिया जाएगा। इससे छात्रों एडमिट कार्ड पर होने वाली गलती को सुधरवाने का मौका मिलेगा।

उन्होंने कहा कि दो डमी एडमिट कार्ड देने के बाद ही छात्रों का ऑरिजनल एडमिट कार्ड परीक्षा से कुछ ही दिन पहले दिया जाएगा। पहला डमी एडमिट कार्ड 15 अक्टूबर को जारी किया जाएगा। उसके बाद सेंटअप एग्जाम के बाद दिसंबर में दूसरी बार डमी एडमिट कार्ड जारी होगा। इन एडमिट कार्ड की मदद से छात्र अपने नाम, अभिभावक के नाम, फोटो की त्रुटि में सुधार कर पायेंगे। इन दोनों डमी एडमिट कार्ड में सबकुछ ठीक करवाने के बाद ही ऑरिजनल एडमिट कार्ड जारी किया जाएगा। 

इससे पहले बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने बुधवार को अगले साल होने वाली मैट्रिक और इंटर की परीक्षा के लिए फॉर्म भरने की तारीखों का एलान कर दिया। बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि 19 से 25 सितंबर तक मैट्रिक के फॉर्म भरे जाएंगे जबकि 25 सितंबर से 1 अक्टूबर तक भरे इंटर की परीक्षा के लिए फॉर्म भरे जाएंगे। बोर्ड अध्यक्ष ने बताया कि 13 लाख 97 हजार 336 छात्रों ने वार्षिक परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन कराया है।

इस साल हुई बिहार बोर्ड की 10वीं की परीक्षा में करीब 17 लाख स्टूडेंट्स बैठे थे। 10वीं की परीक्षा 21 फरवरी से 28 फरवरी तक हुई थी। इस बार के रिजल्ट में टॉप करने वाले छात्रों में लड़कियों ने बाजी मारी थी। टॉप 3 में चार छात्राओं का नाम थे सबसे खास बात यह है कि यह चारों छात्राएं सिमुलतला आवासीय विद्यालय की छात्रा थी। टॉपर प्रेरणा राज, प्रज्ञा, शिखा कुमारी और अन्नूप्रिया ने टॉप 3 की पोजिशन झटक लिया था। इस साल सिमुलतला आवासीय विद्यालय के 16 छात्रों ने टॉप 10 में जगह बनाई थी।
वहीं बिहार बोर्ड का 12वीं का रिजल्ट 6 जून को घोषित हुआ था। 12वीं में साइंस में 44.71 फीसदी, आर्ट्स में 61 फीसदी और कॉमर्स में 91.32 फीसदी स्टूडेंट्स पास हुए थे। बिहार के शिवहर जिले की रहने वाली कल्पना कुमारी ने 12वीं में टॉप किया था। उन्होंने 86.6 फीसदी अंक हासिल किए थे।
वहीं बिहार बोर्ड ने 2019 में होने वाली इंटर और मैट्रिक परीक्षा में नकल को रोकने के लिए कई कदम उठाने जा रहा हैं। इंटर और मैट्रिक 2019 की परीक्षा में प्रश्न पत्र के आठ सेट बनाये जाएंगे। इससे परीक्षा में नकल रोकने में मदद मिलेगी। इसके अलावा अब बिहार बोर्ड इंटर परीक्षा में एडमिट कार्ड और उपस्थिति पत्रक में परीक्षार्थी की जन्मतिथि अंकित रहेगी। इससे उम्र छिपा कर परीक्षा देने वाले छात्र को पकड़ा जा सकेगा। 

हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।
comments