बिहार में गरीबी से जूझ रही एक माँ ने मज़बूरी में अपने बच्चों को बेचने का किया फैसला

PATNA : बिहार के नालंदा जिले से एक हैरान करने वाली खबर आयी। एक गरीब महिला जिसका नाम सोनम है, उसने अपनी गरीबी और बीमारी के चलते बच्चों को बेच देने का फैसला कर लिया। महिला के पास अपनी बीमारी का इलाज कराने के पैसे नहीं थे इसलिए उसे अपने बच्चों को बेचने का फैसला करना पड़ गया। लेकिन बाद में प्रशासन ने महिला की समस्या पर ध्यान दिया और महिला को अपने बच्चे बेचने नहीं पड़े। महिला का इलाज अब जिला प्रशासन मुफ्त करा रहा है।

आपको बता दें कि दिल दहला देने वाली इस खबर की जानकारी मिलते ही नालंदा के डीएम योगेन्द्र सिंह ने मामले का संज्ञान लिया और उसकी मुफ्त चिकित्सा कराने का निर्देश सदर अस्पताल के अधीक्षक को दिया है। महिला पहले कल्याणबीघा रेफरल अस्पताल में भर्ती थी। जहां से उसे सदर अस्पताल रेफर किया गया है। अब जिलाधिकारी के आदेश के बाद इलाज के लिए महिला को पावापुरी मेडिकल कॉलेज में बेहतर इलाज के लिए भेज दिया गया है।

महिला का मायका पटना जिला है। तीन साल पहले इसकी शादी सुमन्त कुमार से हुई थी, जिसकी कुछ ही दिनों बाद मौत हो गई थी। उससे एक बेटी हुई। फिर महिला ने संजय मांझी से शादी कर ली थी। इस शादी के बाद उसे एक पुत्र हुआ। बाद में जब महिला की बैइमारी के बारे में पति को पता चला तो उसने पत्नी को इस संकट के समय छोड़ दिया था।