एग्जिट पोल नतीजों के बाद ईवीएम को लेकर तेजस्वी यादव ने जताई चिंता

PATNA: Lok sabha Election में सातों चरण की मतदान प्रक्रिया19 मई को पूर्ण हो चुकी है। जिसके तुरंत बाद EVM को लेकर जगह जगह से कई प्रकार की ख़बरें आना शुरू हो गई हैं। RJD प्रमुख लालू यादव के पुत्र तेजस्वी यादव का ईवीएम को लेकर एक ट्वीट आया है। तेजस्वी ने पूरे उत्तर भारत से आ रही ईवीएम से सम्बंधित ख़बरों को लेकर चिंता जाहिर की है।

तेजस्वी यादव ने ट्वीट करके कहा कि इस तरह से अचानक ईवीएम को एक स्थान से दूसरे स्थान पर क्यों ले जाया जा रहा है? ऐसा क्यों हो रहा है? इस तरह के ईवीएम लोड गस्तिया वाहन का जिसको जगह जगह देखा गया इस अभ्यास का क्या उद्देश्य है। चुनाव आयोग को गंभीरता के साथ इस मुद्दे पर संज्ञान लेना चाहिए और बयान जारी करना चाहिए, जिससे आम-जनमानस को भी इसकी सही जानकारी मिल पाए। किसी भी भ्रम से बचा जा सके।

राष्ट्रीय जनता दल ने भी ट्वीट करके इस पर सवालिया निशान खड़े करते हुए कहा है कि “चुनाव आयोग के पास गूंगे, बहरे, उत्तरहीन BDO, SDO, मजदूरों के साथ घूमते, जहाँ तहाँ रखाते EVM का जवाब नहीं, क्योंकि भाजपा ने बताया नहीं !”

गौरतलब है कि देश में ईवीएम को लेकर पहले भी कई तरह के सवाल खड़े हो चुके हैं। 2019 लोकसभा चुनाव से पहले तेजस्वी यादव ने भी ईवीएम को लेकर कई बार असंतोष जाहिर किया हैं। आरजेडी नेता तेजस्वी यादव बिहार में ईवीएम द्वारा कराए गए लगातार 3 उपचुनाव जीते है। मगर इसके बावजूद भी उनकी मांग रही है कि भविष्य में होने वाले कोई भी चुनाव ईवीएम के माध्यम से कतई ना हो सभी छोटे बड़े चुनाव बैलेट पेपर के जरिए कराए जाएं।

एक बार फिर लोकसभा चुनाव के सातवें चरण की मतदान की प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद ईवीएम को लेकर आरोप प्रत्यारोप चालू हो गए हैं। तेजस्वी यादव ने ईवीएम के रखरखाव को लेकर गहरी चिंता जाहिर की है। बताते चलें कि सोसल मीडिआ में ईवीएम लदी जीप की चहलकदमी वाली फोटो और वीडिओ काफी कोतुहल का विषय बना हुआ है। जिसको लेकर तेजस्वी यादव ने चुनाव आयोग से सम्बंधित कार्यवाही पर जबाब माँगा है. और कहा है कि जल्द से जल्द चुनाव आयोग इस पर बयान जारी करे ताकि किसी भी तरह का भ्रम दूर हो सके।

आरजेडी ने अपने ट्वीटर में ईवीएम लदे वाहनों की फोटो भी डाली है और लिखा है कि जहां तहाँ EVM मशीनों को रख देते हैं। ये चुनाव आयोग के गूँगे बहरे लोग। इनके पास इस काम का कोई जबाब नहीं। भाजपा को घेरते हुए बोला की शयद चुनाव को बताया नहीं गया। तभी इस तरह का कार्य सम्पादित किया जा रहा है।