प्रेस कांफ्रेंस में वायुसेना ने दिखाए पाकिस्तानी F -16 के मलबे के टुकड़े, पाक के झूठ की खोली पोल

PATNA : एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में थलसेना, नौसेना और वायुसेना ने एक साझे प्रेस कॉन्फ्रेंस की। वायुसेना  ने सबसे पहले मिडिया को संबोधित करते हुए कहा कि 27 फ़रवरी को हमारे रडार ने बड़ी संख्या में  पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों को भारतीय वायुसीमा में पकड़ा। वो हमारी वायुसीमा को पार कर सेना के प्रतिष्ठानों पर हमला करने की कोशिश में थे जिसे रोकने के लिए हमारे सुखोई और मिग विमानों ने उड़ान भरी और मिग 21 ने उनके एक विमान को मार गिराया और पाकिस्तान के बाकी विमान वापस लौट गए। जाते जाते उन्होने हमारी खाली जमीन पर कुछ राकेट गिराए। हालाँकि किसी आम आदमी को कोई नुक्सान नहीं पहुंचा। 

उन्होंने F-16 विमान के मलबे के टुकड़े मीडिया को दिखाए और कहा कि हम पूरी तरह आश्वस्त हैं कि ये F-16 ही था क्योंकि पाकिस्तान के पास इससे उन्नत लड़ाकू विमान नहीं है और जिस ऐमरैम मिसाइल का इस विमान में इस्तेमाल किया गया था वो सिर्फ F -16 में इस्तेमाल होता है। विमान गिरा तो पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में लेकिन उसके कुछ टुकड़े भारतीय सीमा में भी गिरे जिसे सेना ने अपने कब्जे में ले लिया। तीनों सेना ने मीडिया के सामने पाकिस्तान के झूठ की पोल खोल कर रख दी क्योंकि पाकिस्तान अब तक ये मानने से इनकार करता रहा है कि उसने F-16 विमानों के जरिये भारत पर हमला करने की कोशिश की थी।

Quaint Media Quaint Media consultant pvt ltd Quaint Media archives Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar

उन्होंने आगे कहा कि हमारे मिग 21 ने उनके एक F -16 को मार गिराया लेकिन हमने एक मिग भी खो दिया। और हमारे एक पायलट को उन्होंने बंदी बना लिया जिसे वो कल छोड़ने वाले हैं। पहले उन्होंने कहा कि दो पायलट पकड़ा है , फिर उन्होंने कहा कि सिर्फ एक पायलट कब्जे में है। उनके बाद थलसेना अध्यक्ष ने मीडिया को कहा कि पाकिस्तान लगातार सीज फायर का उल्लंघन कर हमें उकसाने की कारवाई कर रहा है। भारतीय सेना मुंहतोड़ जवाब दे रही है। हम सीमा पर कड़ी निगरानी कर रहे हैं और हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। नौसेना ने कहा कि नेवी भी समुद्री सीमा पर पूरी तरह चौकन्नी है और हर स्थिति के लिए तैयार है।