BSF की मिलीभगत से देश में घुसपैठियों का होता है प्रवेश,अमित शाह को कसनी होगी इनपर भी नकेल-अजय

PATNA: जदयू प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से एक अपील करना चाहता हूं। यह अपील खासकर तब कर रहा हूं जब रक्षा मंत्री अमित शाह हैं। उन्होंने कहा कि हमारे देश में रोहिंग्या और बंग्लादेशी घुसपैठियों की समस्या बोर्डर की सुरक्षा कर रहे सुरक्षाकर्मी की भी देन है।

DR. AJAY ALOK AND HOME MINISTER AMIT SHAH

उन्होंने घुसपैठियों को भारत में प्रवेश दिलाने के लिए सीधे-सीधे सुरक्षा एजेंसी को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि जिस तरह से देश में भ्रष्टा’चार के मामलों में आयकर अधिकारियों की नौकरी खत्म की गयी है। ठीक उसी तरह बीएसएफ के कमांडेंट और डिप्टी कमांडेंट की संपत्ति की जांच होनी चाहिए। खासकर वैसे अधिकारियों की जो 10-15 साल पहले वर्मा और बांग्लादेश की सीमाओं पर तैनात थे।

आलोक का कहना है कि नार्थ-ईस्ट, बंगाल के साथ-साथ पूरा देश जानता है कि BSF के अधिकारी घुस लेकर बंग्लादेशी और रोहिंग्या को देश में अ’वैध तरीकों से प्रवेश करवाते हैं। इसकी जांच होनी चाहिए और जो भी अधिकारी हो, उसपर क’ड़ी कार्र’वाही की जाए। अभी वैसे अधिकारियों पर कार्र’वाही संभव है क्योंकि रक्षा मंत्री अमित शाह है।

ममता बनर्जी के मुद्दे पर आलोक ने कहा कि सिर्फ ममता दीदी को कोसने से कुछ नहीं होने वाला है बल्कि अपनी सुरक्षा एजेंसियों के नाक में भी नकेल डालनी होगी। बिना BSF की मिलीभगत के देश में रोहिंग्या और बंग्लादेशी प्रवेश नहीं कर पायेगें। उन्होंने यह पूरी बात मीडिया को दिए एक इंटरव्यु में कहा।

डॉक्टर अजय आलोक का ट्वीट-

इतना ही नहीं, उन्होंने ट्वीट करके भी कहा कि सिर्फ़ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को कोसने से काम नहीं चलेगा बल्कि अपने तन्त्र को भी कोसने की ज़रूरत हैं। ख़ासकर तब जब अमित शाह हमारे गृह मंत्री हैं। illegal immigration पर रोक लगाना अति आवश्यक हैं। यह रोक अब नहीं होगा तो कब होगा?