सैकड़ों समर्थकों के साथ JDU में शामिल हुए अली अशरफ फातमी, वशिष्ठ नारायण सिंह ने दिलाई सदस्यता

PATNA: राष्ट्रीय जनता दल के पूर्व सांसद और लालू यादव के करीबी Mohammad Ali Ashraf Fatmi ने आज JDU का दामन थाम लिया। अली अशरफ फातमी ने सैकड़ों समर्थकों के साथ जेडीयू के वरिष्ठ नेता वशिष्ठ नारायण सिंह की उपस्थिति में सदस्यता ली।

इस दौरान अली अशरफ फातमी ने कहा कि वह नीतीश कुमार के काम करने से काफी प्रभावित हैं। अली अशरफ फातमी कई मौकों पर सीएम नीतीश कुमार के काम की सराहना भी कर चुके हैं।


कभी आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के करीबी रहे फातमी ने इस बार चुनाव में टिकट न मिलने के चलते नाराजगी भी व्यक्त की थी। वहीँ उन्होंने तेजस्वी यादव की नेतृत्व पर भी सवाल उठाए थे। फातमी आरजेडी के कद्दावर नेताओं में गिने जाते रहे हैं। आरजेडी में मुस्लिम समुदाय का बड़ा चेहरा जाने जाते हैं। फातमी ने पहले ही इस बात की घोषणा कर दी थी कि वह जेडीयू के अपने समर्थकों के साथ 28 जुलाई को शामिल होंगे।

फातमी 2004 से 2009 तक मानव संसाधन विकास मंत्रालय में राज्य मंत्री थे। इतना ही नहीं, राजद की ओर से सबसे बड़े मुस्लिम नेता की भूमिका भी निभा चुके हैं। राजद छोड़ने के कारणों को बताते हुए, उन्होंने कहा कि वहां उनकी अनदेखी की जा रही थी। यही कारण है कि वे लोकसभा चुनाव के समय से ही राजद के द्वारा उठाये जा रहे विभिन्न कदमों से नाराज चल रहे थे।

अली अशरफ फातमी दरभंगा संसदीय सीट से चार बार सांसद रह चुके हैं। जेडीयू नेता वशिष्ठ नारायण सिंह ने फातमी को लेकर कहा कि अली अशरफ फातमी का जेडीयू में शामिल होना काफी महत्वपूर्ण है।