पटना यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले सावधान,रैगिं’ग करने पर आपके अभिभावकों को भी हो मिल सकती है स’जा

PATNA: पटना यूनिवर्सिटी में पढ़ने वाले अच्छे छात्रों के लिए अच्छी खबर सामने आयी है। यूनिवर्सिटी प्रशासन ने यह घोषणा कि है कि अब विद्यार्थियों के साथ-साथ उनके अभिभावकों को भी एंटी-रैं’गिग का शपथ-पत्र भरना होगा। विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों के द्वारा एंटी-रैं’गिग आवेदन फोर्म को एक माह के अंदर नहीं भरा गया तो दोनों के खि’लाफ का’र्रवाई की जायेगी।

आपको बता दें कि इसी सत्र 2019-20 में पटना विश्वविद्यालय में सभी विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों से एंटी-रैगिं’ग शपथ पत्र ऑन लाइन भराने की पहल की गयी है। गौरतलब है कि इस शपथ पत्र में मोबाइल नंबर के साथ-साथ ईमेल आईडी की आवश्यकता पड़ती है। यह भी सुनने में आ रहा है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर विद्यार्थियों को इलेक्ट्रानिक डाटावेस तैयार किया जा रहा है।

PATNA UNIVERSITY

रैंगिग के बारे में शि’कायत या अधिक जानकारी के लिए www.antiragging.in विजिट किया जा सकता है। इतना ही नहीं, विद्यार्थियों को रैं’गिग के खि’लाफ शि’कायत दर्ज कराने के लिए एक हेल्पलाइन नंबर 1800 105 522 भी शिकाय’त जारी किया गया है। गौरतलब है कि पटना यूनिवर्सिटी और इसके विभिन्न कॉलेजों को यूजीसी एंटी रैगिं’ग जोन घोषित किया है। इसके कारण इसके रोकने के लिए यूनिवर्सिटी प्रशासन स’ख्त से स’ख्त कदम उठाने को तैयार है। आपको बता दें कि रैगिं’ग की स्थिति में सबसे पहले कॉलेज और यूनिवर्सिटी प्रशासन की एंटी रै’गिंग कमेटी से शि’कायत करनी होगी। अगर इन्होंने इसके खि’लाफ कोई का’र्रवाही नहीं की तो कॉलेज के प्रिसिंपल या यूनिवर्सिटी के कुलपति से शिका’यत करनी पड़ेगी। हालांकि यही तक माम’ला निपट जाता है लेकिन इन दोनों जगहों पर भी कोई का’र्रवाई नहीं हुई तो दिये गये हेल्पलाइन नंबर या ईमेल आईडी पर शिका’यत दर्ज कर सकते हैं।