पारा टीचर्स को स्थाई शिक्षक बनने के लिए नियुक्ति परीक्षा भी पास करना अनिवार्य

RANCHI : प्राथमिक शिक्षा निदेशालय द्वारा बनाई जा रही नई प्राथमिक शिक्षक नियुक्ति नियमावली में पारा शिक्षकों को TET पास करना आवश्यक किया गया है। स्थाई शिक्षक बनने के लिए अब शिक्षक पात्रता परीक्षा (टेट) पास पारा शिक्षकों को नियुक्ति परीक्षा में पास होना अनिवार्य किया गया है। परीक्षा झारखंड कर्मचारी चयन आयोग लेगा।

पहले टेट पास पारा टीचर्स की नियुक्ति स्थाई शिक्षक के रूप में होती थी। इस नई शर्त के बाद पारा शिक्षकों के स्थायीकरण का स्वरूप बदल जाएगा। करीब आठ हजार पारा शिक्षकों ने टेट पास किया है। नई नियमावली के बाद इन सबको शिक्षक नियुक्ति परीक्षा में भाग लेना होगा।टेट पास होने के कई वर्षों बाद शिक्षकों की नियुक्ति होती है। ऐसे में उनकी योग्यता की दोबारा परख के लिए शिक्षक नियुक्ति परीक्षा अनिवार्य की जा रही है।

नयी प्राथमिक शिक्षक नियुक्ति नियमावली तैयार हो रही है-

आपको बता दें कि नई नियमावली बन रही है इसमें नियुक्ति और प्रोन्नति संबंधी नियमों का उल्लेख होगा। पहले के कई नियमों में बदलाव किये जाने की सम्भावना है। इस नियमावली के मुताबिक सिर्फ टेट पास करने भर से शिक्षक नहीं बन पाएंगे, बल्कि पारा शिक्षकों को नियुक्ति परीक्षा में भाग लेना जरूरी होगा।नई शिक्षक नियुक्ति नियमावली बनाने के लिए प्राथमिक शिक्षा निदेशक विनोद कुमार की अध्यक्षता में चार सदस्यीय कमेटी बनी है। इसमें प्राथमिक शिक्षा उप निदेशक अरविंद कुमार सिंह और मिथिलेश सिन्हा समेत जमशेदपुर के जिला शिक्षा पदाधिकारी शिवेंद्र कुमार शामिल हैं। यह कमेटी इसी महीने अपनी रिपोर्ट सौंपेगी।