बिहार के मुज़फ्फरपुर में ‘नोटबन्दी’ से जनता परेशान, 400 से अधिक ATM सेवा ठप

Patna : बिहार (Bihar) के मुजफ्फरपुर (Muzaffarpur) में सीएमएस (CMS) कंपनी के कैश वैन से 24 लाख की लू-ट की वारदात के बाद से जिले भर में करीब 400 से ज्यादा एटीएम की सेवाएं (ATM Services) प्रभावित हुई हैं. आलम ये है कि लोग रुपये निकालने के लिए एटीएम पर जाते हैं और निराश होकर लौट जाते हैं क्योंकि वहां कैश उपलब्ध नहीं होता. दरअसल कैश लोडिंग एजेंसी सीएमएस के कर्मियों नें कामकाज ठप कर दिया है. बीते 24 दिसंबर के बाद से कंपनी द्वारा कोई भी लोडिंग नहीं हो रही है.

दरअसल 24 दिसंबर को हुए इस लू-टकांड में पुलिस ने सीएमएस के चार कर्मियों को पांच दिन से हिरासत में ले रखा है. कानूनन किसी को भी 24 घंटे से ज्यादा हिरासत में नहीं रखा जा सकता. इस वजह से सीएमएस के बाकी कर्मी नाराज और गुस्से में हैं.

वहीं हिरासत में लिए गए CMS कर्मियों के परिजनों ने बताया कि उनके बच्चों को कहां रखा गया है इसकी जानकारी भी नहीं दी जा रही है. उन्होंने पुलिस पर हिरासत में लिए गए कर्मियों से मा-रपीट का भी आरोप लगाया. उनका कहना है कि अगर ये लोग सही हैं तो 24 घंटे में पूछताछ के बाद छोड़ देना चाहिए था. और यदि वो दोषी हैॆ तो 24 घंटे के भीतर जेल भेज देना चाहिए था. परिवारवालों का कहना है कि दरअसल पुलिस खुद कंफ्यूज है कि कंपनी के यह कर्मी दोषी है अथवा नहीं.

जानकारी के मुताबिक इस मामले में सीएमएस की तरफ से पुलिस के पास पहल नहीं हो रही है. इस वजह से सीएमएस कर्मी दिन भर कंपनी के भगवानपुर शाखा कार्यालय में जमे रहते हैं. न खुद कोई काम करते हैं और न किसी को कोई काम करने देते हैं.