63 वर्षीय वृद्ध ने लगायी गुहार, कहा- साहब फर्जी पत्नी से छुटकारा दिलाइये, गले की आफत बन गयी है

BHAGALPUR : बिहार के भागलपुर में जगदीशपुर थाना क्षेत्र के पुरैनी बाजार के रहने वाले 63 वर्षीय वृद्ध मो इस्लाम ने डीआइजी से मिलकर फर्जी पत्नी बनी महिला से बचाने की गुहार लगायी। उसने बताया कि उनके गांव की ही रहने वाली बीबी मलका उनपर उसके पति होने का दावा कर रही है। जबकि, उसका पति कोई और है। डीआइजी ने जगदीशपुर थानाध्यक्ष को मामले की जांच का जिम्मा सौंपा है।

डीआइजी से मिलने आये मो इस्लाम ने बताया कि बीबी मलका के पास निर्वाचन आयोग के दो पहचान पत्र हैं। जिसमें से एक उसने अपने पति का नाम मो जब्बार लिखा है, जबकि दूसरे में अपने पति के नाम के जगह उनका नाम यानी मो इस्लाम लिखवाया है। वहीं बीबी मलका के छोटे पुत्र के निर्वाचन आयोग पहचान पत्र में पिता का नाम अलाउद्दीन लिखवाया है। मो इस्लाम ने बताया कि उनकी असल पत्नी का नाम शमीना है। मो इस्लाम ने डीआइजी से कहा है कि उसकी एकमात्र पत्नी शमीना है और उनकी मृत्यु के बाद शमीना ही उनके सारे चल व अचल संपत्ति की उत्तराधिकारी है।