यदि हमलोग चुप है तो EVM हैक करने वाले भी शांत रहें, नहीं तो सारी पोल खोल दूंगा- भाई वीरेंद्र

PATNA:राजद प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर कोई अपनी हार और आगामी चुनाव में जीत के लिए मंथन कर रहा है तो क्या उसे गुमशुदा मानकर उसकी खोजबीन जारी कर दी जाए? आजकल के नेता कितनी गंदी राजनीति करने लगे हैं।ऐसा लगता है कि एनडीए के भाजपा-जदयू का मन बढ़ गया है, इसलिए इस तरह की बयानबाजी कर रहे हैं।

एनडीए वाले सोचते हैं कि EVM में गड़बड़ी करके चुनाव जीत लिये है तो ज्यादा काबिल हो गये हैं। एनडीए वालों को मन शांत करके शालीनता बात करने और रहने का कोशिश करें। एनडीए के नेता कहां क्या करते हैं, अगर वो सारी बातें मैं बोलूंगा तो बिहार में आ’ग लग जायेगी। उन्होंने कहा कि हमारे नेता अपने राजनीतिक कारणों से दिल्ली गये है और स्वास्थ्य सही नहीं होने के कारण अपनी इलाज भी करवा रहे हैं।

Rabri_Virendra

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में करारी हा’र के बाद तेजस्वी यादव पब्लिक लाइफ में उतने नजर नहीं आ रहे हैं, जितने चुनाव से पहले आ रहे थे। इसी को आधार बनाकर विपक्ष तेजस्वी पर हमलावर है। भाजपा प्रवक्ता संजय मयूख ने कहा है कि करारी हार के बाद तेजस्वी सदमे में पहुंच गये हैं। यही कारण है कि लोगो को वे खोजने पर भी नहीं मिल रहे हैं। वहीं जदयू के प्रवक्ता अजय आलोक ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि तेजस्वी पाताल-लोक में है। उन्हें खोजना है तो पाताल-लोक में लाइट जलाकर ढूढ़ें, वे वहां अवश्य मिल जायेंगे।

हार बन रही है आलोचना का कारण-

एनडीए बिहार के कुल 40 लोकसभा सीटों में एनडीए ने 39 सीटों पर शानदार जीत हासिल की। राजद को एक भी सीट नहीं मिली। यहां तक की जीतन राम मांझी की पार्टी हम और मुकेश सहनी की पार्टी वीआईपी भी शून्य पर ही आ’उट हो गयी थी। इस तरह करारी हार के बाद वि’पक्षी पार्टियां सहित महागठबंधन के नेताओं ने भी तेजस्वी के नेतृत्व पर प्रश्न’चिन्ह लगाना शुरु कर दी है।