बिहार में टला बड़ा रेल हा’दसा, रास्ते भर में पाँच बार बोगियों से अलग हुआ इंजन

PATNA : गोरखपुर से छपरा जाने वाली ट्रेन एक बड़े रेल हा’दसे से बा’ल- बा’ल बच गयी। छपरा-गोरखपुर इंटरसिटी एक्सप्रेस का इंजन रास्ते भर में कुल पाँच बार  बाकी  बोगियों से अलग हो गया लेकिन ट्रेन के किसी भी कर्मचारी ने इस सम’स्या को गं’भीरता से नहीं लिया। इंजन के बाकी डिब्बों से अलग हो जाने की समस्या को रेलवे की भाषा में कपलिंग कहते हैं। 

LIVE BIHAR

कप’लिंग टू’टने के चलते इंजन ट्रेन की 5 बोगियों को छोड़कर आगे बढ़ गया। यात्रियों ने जब हं’गामा शुरू किया तब रेल प्रबंधन ने ड्राइवर को इसकी जानकारी दी। ड्राइवर ने इंजन को बैक किया और कपलिंग को दोबारा जोड़कर ट्रेन को आगे रवाना किया। आपको बता दें कि 5 बार कप’लिंग टूटने की घटना छपरा से एकमा स्टेशन के बीच हुई। यात्रियों ने बताया जब पहली बार कपलिं’ग टूटी तब उसे किसी तरह ठीक कर ट्रेन को आगे रवाना किया गया। ड्राइवर किसी तरह ट्रेन को एकमा स्टेशन लेकर पहुंचा।

इससे पहले बारिश के चलते मुजफ्फरपुर-गोरखपुर ट्रैक पर इले’क्ट्रिक पो’ल गिरने के चलते रेल मार्ग बा’धित हो गया था । जिससे लोगों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा था। हरिनगर रेलवे स्टेशन के पास हुए इस ब्रेकडाउन के चलते 12558 सप्तक्रांति सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रैन और 55074 गोरखपुर नरकटियागंज पैसेंजर ट्रेन अलग-अलग स्टेशनों पर खड़ी रहीं थीं। छपरा-गोरखपुर इंटरसिटी एक्सप्रेस में कपलिंग टूटने और इसको ठीक करने की वजह से ट्रेन करीब ढाई घंटे लेट हो गई। इंटरसिटी एक्सप्रेस छपरा जंक्शन से सुबह 6:30 बजे चलती है।