ई पेमेंट के मामले में उत्तर प्रदेश को पछाड़कर आगे निकला हैं बिहार

Quaint Media

PATNA : तकनीकी की बात करें तो भारत में दक्षिण के राज्य बहुत आगे हैं। लेकिन वहीँ अगर बात देश में ई पेमेंट की करें तो इस मामले में उत्तरी राज्यों ने दक्षिणी राज्यों को बहुत पीछे छोड़ दिया दिया। ई पेमेंट के जरिए बिजली के बिल के भुगतान के मामले में देश में आंध्र प्रदेश सबसे ऊपर है। वहीँ आंध्र-प्रदेश को छोड़कर कोई भी दक्षिणी प्रदेश पहले दस प्रदेशों की सूची में शामिल नहीं है। वहीँ जारी की गई इस सूची में सबसे रोचक बात यह सामने आई है कि ई पेमेंट के मामले में बिहार ने उत्तर प्रदेश को पछाड़ दिया है। जारी की गई सूची में बिहार को 7वां स्थान मिला है।

Quaint Media

अगर बात झारखंड की जाए तो ई पेंमेंट के मामले में झारखंड चौथे स्थान पर है। झारखंड को लेकर सबसे रोचक बात यह है कि दक्षिणी राज्यों के मुकाबले झारखंड में स्मार्टफोन और इंटरनेट की संख्या बहुत कम है। इसके बावजूद भी झारखंड ने चौथा स्थान हासिल किया है। बिजली मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, साल 2018 दिसंबर तक ई पेमेंट के मामध्य से बिजली बिल का भुगतान करने के मामले में पंजाब देश में पहले नंबर पर था। इसके बाद दूसरे नंबर पर आंध्र प्रदेश आता है। वहीँ तीसरे और चौथे स्थान पर क्रमश राजस्थान और झारखंड आते हैं।

पंजाब में 38.24 प्रतिशत उपभोक्ता ई पेमेंट के माध्यम से बिल का भुगतान करते हैं। आंध्र-प्रदेश में 33.12 प्रतिशत लोग ई पेमेंट के जरिए भुगतान करते हैं। वहीं राजस्थान की बात करें तो में 26.97 और झारखंड में 26.03 प्रतिशत उपभोक्ता मोबाइल या इंटरनेट के माध्यम से बिल का भुगतान करते हैं। अगर बात बिहार की करें तो 20.66 प्रतिशत लोग ई पेमेंट से बिल का भुगतान करते हैं। इस मामले में उत्तर प्रदेश बिहार से पीछे है और यहाँ 15.30 प्रतिशत लोग ई पेमेंट के जरिए भुगतान करते हैं। जारी किये गए आंकड़ों की खास बात यह है कि दो साल पहले दिसंबर 2016 में झारखंड ई पेमेंट के मामले में देश में 22वें स्थान पर था। जबकि दिसंबर 2017 में झारखंड का 17वां स्थान था।