शिक्षक नियोजन में देरी पर सदन में RJD का हंगामा, कहा- स्कूलों में छात्र हैं लेकिन शिक्षक नहीं

PATNA: बिहार विधानसभा के मानसून सत्र में लगातार विपक्षी दलों का विरोध प्रदर्शन देखने को मिल रहा है। मंगलवार को भी सदन की कार्रवाही शुरू होते ही विपक्षी दल आरजेडी ने जमकर हंगामा किया। इस दौरान आरजेडी ने राज्य में शिक्षा व्यवस्था को लेकर सरकार पर निशाना साधा।

सदन में विपक्षी दलों ने राज्य में शिक्षा व्यवस्था की खस्ता हालत को लेकर नीतीश सरकार पर निशाना साधा और सवाल किया कि शिक्षकों के नियोजन की बहाली में इतनी देरी क्यों हो रही है। वहीँ आरजेडी ने कहा वर्तमान में स्कूलों की स्थिति ऐसे हो गई है कि स्कूलों में छात्र तो बहुत हैं लेकिन शिक्षक एक भी नहीं है।

विपक्ष के हंगामे के बाद शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने सदन में अपनी बात रखी। उन्होंने कहा कि नवंबर माह तक नए शिक्षकों की बहाली कर ली जाएगी। वही शिक्षकों की कमी को लेकर उन्होंने कहा कि 3 महीने के अंदर राज्य के सभी सरकारी स्कूलों से शिक्षकों की कमी को दूर कर दिया जाएगा और नवंबर तक नए शिक्षकों की बहाली हो जाएगी।

सदन में प्रश्नोत्तर काल दौरान रघुनाथपुर से आरजेडी विधायक हरिशंकर यादव ने अपने विधानसभा क्षेत्र के एक ऐसे स्कूल का मामला उठाया जहां छात्र हैं लेकिन पढ़ाने के लिए एक भी शिक्षक नहीं है। इस सवाल का जवाब देते हुए शिक्षामंत्री ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट से हरी झंडी मिलने के बाद अब सरकार ने शिक्षक नियोजन की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

इस बार मानसून सत्र के दौरान सदन में विपक्षी दलों का जमकर हंगामा देखने को मिल रहा है। पहले चमकी बुखार फिर राज्य में बढ़ते अपराध और फिर शिक्षा व्यवस्था को लेकर विरोध देखने को मिल रहा है।