सीबीएसई की दसवीं की परीक्षा आज से, 10 बजे तक परीक्षा केन्द्रों पर पहुंचा अनिवार्य

PATNA : आज से सीबीएसई की 10 वीं की परीक्षा शुरू हो रही है। बिहार में इस परीक्षा के लिए 210 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं और झारखण्ड में 122 केन्द्रों पर होगी परीक्षा। बिहार और झारखण्ड के 2.05 लाख विद्यार्थी परीक्षा में शामिल होंगे। बोर्ड परीक्षा के लिए बेहद पुख्ता इंतजाम किये गए हैं। सभी सेंटरों पर सीबीएसई की तरफ से ऑब्जर्वर तैनात किये गए हैं। सीबीएसई के सामने सबसे बड़ी चुनौती प्रश्नपत्रों को लीक होने से बचाने की है। परीक्षार्थियों को हर हाल में 10 बजे तक परीक्षण केन्द्रों पत्र पहुंचना अनिवार्य होगा। इसके बाद परीक्षा केंद्र में घुसने की इजाजत नहीं दी जायेगी। 

परीक्षार्थियों से समय का ध्यान रखने की अपील की गई है। साथ ही सीबीएसई ने अविभावकों और परीक्षार्थियों से अपील की है कि वो किसी भी अफवाहों पर ध्यान ना दें। और परीक्षार्थियों से स्कूल ड्रेस पहन कर आने को कहा गया है। ज्ञात हो कि यूनिफार्म की अनिवार्यता पहले नहीं थी। छात्र अपनी मर्जी से यूनिफार्म में परीक्षा देने जाते थे। लेकिन इस बार इसे अनिवार्य कर दिया गया है। परीक्षा केंद्र पर इस बार छात्रों के नाम और रौल नंबर का बोर्ड के एलओसी (लिस्ट ऑफ कैडिडेंट्स) से मिलान किया जाएगा। इसका मकसद उन छात्रों तक पहुंचना है जो फ्लाइंग कैंडिडेट्स के तौर पर परीक्षा फार्म भरते हैं। ऐसे छात्र का आईकार्ड भी देखा जायेगा।
Quaint Media Quaint Media consultant pvt ltd Quaint Media archives Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, live india
जिन छात्रों को डायबिटीज है, उन्हें परीक्षा केंद्र पर खाने का सामान साथ ले जाने की अनुमति दी गई है। इसके लिए छात्र को डायबिटीज कार्ड दिखाना होगा। डायबिटीज वाले छात्रों के लिए केंद्र पर अलग से व्यवस्था रहेगी। बोर्ड ने केंद्र के अंदर बैग ले जाने की अनुमति दी है, लेकिन बैग पारदर्शी रहेगा। उसमें पेन और स्टेशनरी ले जा सकते हैं। साथ में स्कूल कार्ड और एडमिट कार्ड रख सकते हैं। बोर्ड ने पारदर्शी वाटर बोतल ले जाने की छूट दी है। चाभी वाली घडी पहन कर भी जा सकते हैं।