चा’लान से बचने के लिए DTO कार्यालयों में लाइसेंस बनवाने के लिए उमड़ रही है भी’ड़

PATNA : केंद्र सरकार ने पूरे देश में नया मोटर व्हीकल ए’क्ट लागू कर दिया है। इसके अंतर्गत चा’लान की राशि बहुत ज़्यादा है। इससे बचने के लिए लोग अब ट्रैफिक के नियमों को मानने के लिए बाध्य हैं। पुलिस के चा’लान से बचने के लिए लोग लाइसेंस, इंश्योरेंस और अन्य कागजात बनाने में भी जुट गए हैं। लोग लाइसेंस बनवाने के लिए लम्बी लम्बी लाइनों में लग रहे हैं और अपना ड्राइविंग लाइसेंस बनवा रहे हैं।

गया के डीटीओ (DTO) कार्यालय में कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला। लोग लाइसेंस बनाने के लिए घंटों कतार में खड़े रहे। इस दौरान लोगों ने अपनी परेशानी भी बताई। लाइसेंस बनवाने के लिए आये लोगों ने बताया कि डीटीओ कार्यालय में मात्र एक ही काउंटर है, जहां लाइसेंस का फॉर्म जमा किया जाता है। नए नियम लागू होने के बाद दो से तीन काउंटर बनाए जाने की आवश्यक्ता है। लाइसेंस बनाने वाले लोगों को काफी परेशानी हो रही है।

ये संशोधित बिल रोड सेफ्टी और हादसों की संख्या में कमी लाने के लिए बहुत सख्त किया गया है। सरकार बड़े जुर्माने लगाकर लोगों में नियमों को लेकर अनुशासन लाना चाहती है। नए मोटर व्हीकल एक्ट के मुताबिक ड्राइविंग लाइसेंस (DL) और व्हीकल रजिस्ट्रेशन के लिए आधार अनिवार्य होगा। बगैर हेलमेट या ओवरलोड दोपहिया वाहन पर 3 महीने के लिए ड्राइवर लाइसेंस अ’योग्य कर दिया जायेगा। बगैर हेलमेट पर 1 हजार रुपए और ओवर लो’डिंग पर दो हजार रुपए जु’र्मा’ना भरना पड़ेगा। लाइसेंस के बिना गाड़ी चलाने पर जु’र्मा’ना 500 से बढ़ाकर 5,000 रुपए है। ड्राइविंग क्वालिफिकेशन के बिना ड्राइव करने पर जु’र्मा’ना 500 से बढ़ाकर 10,000 रुपए है। अब स्पीडिंग या रेसिंग करने पर 2,000 नहीं 10,000 हजार भरने होंगे। बिना परमिट के गाड़ी चलाने पर 5000 से बढ़ाकर 10,000 रुपए का जु’र्मा’ना देना पड़ेगा।