चिराग पासवान ने जमुई से दाखिल किया नामांकन, कहा-मोदी और विकास हैं एक दुसरे के पर्यायवाची

PATNA : चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने  आज जमुई लोकसभा सीट से नामांकन दाखिल कर दिया। नामांकन दाखिल करने के बाद चिराग ने कहा कि वो विकास के मुद्दे पर जनता के बीच आये हैं और इस बार 2014 से भी बड़ी जीत दर्ज करेंगे। उन्होंने कहा कि विरोधी पार्टियों के पास कोई मुद्दा नहीं है और उन्हें (चिराग) को खुद की ताकत पर भरोसा है। नामांकन दाखिल करते वक़्त चिराग के साथ उनके पिता रामविलास पासवान भी उपस्थित थे। 

नामांकन दाखिल करने के बाद उन्होंने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि जमुई देश के प्रगतिशील जिलों में पांचवे स्थान पर है। 2014 में ये जिला 99 नंबर पर था। उन्होंने कहा कि 2014 में नरेंद्र मोदी जी पहली बारविकास का चेहरा बन कर आये थे और उस पर खड़े उतरे हैं।  इस बार फिर हम विकास के मुद्दे पर जनता के बीच जायेंगे और नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनायेंगे। जमुई क्षेत्र की जनता के बारे में उन्होंने कहा कि जमुई सिर्फ उनकी कर्मभूमि नहीं है बल्कि जमुई के साथ उनका ख़ास रिश्ता है। जमुई उनके परिवार की तरफ है। और जब परिवार साथ हो तो फिर चिंता की कोई बात नहीं है। चिराग के साथ उपस्थित उनके पिता रामविलास पासवान ने कहा कि चिराग को जमुई की जनता का आशीर्वाद प्राप्त है और वो इस बार भी चुनाव जीतेंगे।

Quaint Media Quaint Media consultant pvt ltd Quaint Media archives Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, live india

चिराग के सामने रालोसपा उम्मीदवार भूदेव चौधरी हैं। भूदेव चौधरी ने भी आज अपना नामांकन दाखिल किया। भूदेव 2009 में जमुई से जेडीयू के सांसद रह चुके हैं। उस वक़्त उन्होंने राजद के श्याम रजक को हराया था। 2014 में चिराग पासवान ने राजद उम्मीदवार सुधांशु शेखर भास्कर को करीब 85,947 मतों से पराजित किया था। जमुई लोकसभा सीट पर करीब 17.09 लाख मतदाता हैं। इस सीट पर मुस्लिम यादव समीकरण सब पर भारी है। ऐसा इसलिए क्योंकि यादवों के बाद यहाँ मुस्लिम मतदाता ही सबसे अधिक हैं। इस सीट पर लगभग साढ़े तीन लाख यादव वोटर हैं जबकि मुस्लिम मतदाताओं की संख्या दो लाख 15 हजार के आसपास है। पिछड़ी जातियों के चार लाख मतदाताओं के अलावा 2 लाख 15 हज़ार महादलित मतदाता हैं। 11 अप्रैल को जमुई में वोटिंग होगी और 23 मई को मतों की गिनती होगी।