पटना में सिटी बस का मंथली पास शुरू, छह सौ के पास पर घूमिये एक महीना

PATNA : अब छह सौ का मंथली पास बनवाकर आप महीनेभर परिवहन निगम की सिटी बसों से पटना में कहीं भी आ जा सकते हैं। छात्रों को तो पांच सौ ही देने होंगे, जबकि महिलाओं को 550 रुपये। यात्री शनिवार से बांकीपुर बस डिपो में पास के लिए आवेदन दे सकते हैं।

यात्रियों की सुविधा और उनकी मांग को देखते हुए परिवहन विभाग ने मंथली इलेक्ट्रॉनिक पास की व्यवस्था शुरू की है। सिटी बस का पास मेट्रो रेल पास की तरह स्मार्ट कार्ड होगा। बस में चढ़ते समय यात्री को इसे पंच करना होगा। बस में पंचिंग मशीन कंडक्टर के पास होगी। पटना में सभी सात रूटों पर मंथली पास की सुविधा मिलेगी। बिहारशरीफ, नालंदा और हाजीपुर रूट में भी शीघ्र मंथली पास की व्यवस्था शुरू की जायेगी। छात्रों को पास के लिए स्कूल या कॉलेज का परिचय पत्र भी देना होगा।

Quaint Media Quaint Media consultant pvt ltd Quaint Media archives Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar

ईको पार्क में फ्री वाई-फाई शुरू, स्पीड 100 एमबीपीएस, सुशील कुमार मोदी ने किया शुभारंभ : ईको पार्क आने वाले दर्शक अब यहां फ्री वाई-फाई का लाभ उठा सकेंगे। शुक्रवार शाम से यहां यह सुविधा शुरू हो गई है। बीएसएनएल ने इसके लिए सौ एमबीपीएस की इंटरनेट बैंडविथ दी है। एक बार लॉग इन करने पर एक घंटे तक इंटरनेट एक्सेस किया जा सकता है। यह सुविधा सूचना प्रावैधिकी विभाग द्वारा बेल्ट्रॉन, बीएसएनएल और पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग की ओर से शुरू की गई है। उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने शुक्रवार को इसका उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि पार्क में 60 एक्सेस प्वाइंट लगाए गए हैं। पिछले साल करीब 15 लाख लोगों ने यहां की सैर की। पांच साल में पार्क का 58 लाख लोग आए। एक साल में साढ़े तीन करोड़ रुपये राजस्व आया है। उन्होंने विभाग के अधिकारियों से कहा कि पूरे पार्क में पहले के दृश्य का डिस्पले लगाया जाए, ताकि लोगों को पता चल सके कि यह पहले कैसा था। वाई-फाई की सुविधा तीनों पार्क (पार्क वन, टू और थ्री) में दी गई है। चिड़ियाघर को भी इससे जोड़ा जाएगा। मौके पर बेल्ट्रॉन के प्रधान सचिव राहुल सिंह, मुख्य वन संरक्षक एसएस चौधरी, डीएफओ हेमंत पाटील, बीएसएनएल के जीसी श्रीवास्तव जीतेन्द्र त्रिपाठी आदि शामिल थे।

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार के छह हजार 105 ग्राम पंचायत और 354 ब्लॉक हेडक्वाटर में ऑप्टिकल फाइबर बिछाए जा चुके हैं। दूसरे चरण में 2692 ग्राम पंचायत और 180 ब्लॉक में इसे बिछाने का काम प्रारंभ हो गया है। जून 2019 तक सभी ग्राम पंचायतों में यह सुविधा शुरू हो जाएगी। राज्य के 1200 ग्राम पंचायतों में कॉमन सर्विस सेंटर चल रहे हैं। एक महीने में और 800 ग्राम पंचायत को जोड़ने की योजना है। हर ग्राम पंचायत में पांच-पांच हॉटस्पॉट स्थापित किए जाएंगे।