दरभंगा पर महागठबंधन में जुबानी जंग, कांग्रेस ने कहा-ब्राह्मण यहाँ से नहीं लडेगा तो कहाँ से लड़ेगा

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, Live Bihar, Live India

PATNA : दरभंगा सीट (Darbhanga) को लेकर राजद और कांग्रेस में एक बार फिर जुबानी जंग तेज हो गई है। राजद प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने जहाँ सोमवार को ये कहा कि अब्दुल बारी सिद्धीकी दरभंगा से राजद के उम्मीदवार होंगे वहीँ अगले ही दिन कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा ने कहा कि पार्टी अपना प्रत्याशी मैदान में उतारना चाहती है। कांग्रेस के प्रवक्ता ऋषि मिश्रा ने भी दरभंगा सीट पर कांग्रेस की दावेदारी ठोक राजद पर दवाब बनाना चाहा। गौरतलब है कि राजद प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने मीडिया से बात करते हुए कहा था  कि दरभंगा लोकसभा सीट से इस बार चुनावी मैदान में आरजेडी के वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्धिकी उतरेंगे। हलांकि पार्टी ने अभी तक इसकी कोई औपचारिक घोषणा नहीं की है।

भाई वीरेंद्र के बयान के अगले दिन मदन मोहन झा ने कहा कि पार्टी दरभंगा से अपना उम्मीदवार उतारना चाहती है। हालाँकि उन्होंने उम्मीदवार का नाम तो नहीं लिया लेकिन ये साफ़ समझा जा सकता है कि कीर्ति आज़ाद को कांग्रेस उम्मीदवार बनाना चाहती है। कीर्ति आज़ाद एक महीने पहले ही भाजपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए हैं। कांग्रेस प्रवक्ता ऋषि मिश्र ने भी कहा कि ब्राह्मण अगर दरभंगा से नहीं लडेगा तो क्या औरंगाबाद से लडेगा। मिथिला में एक सीट पर ब्राह्मण उम्मीदवार जरूरी है। उन्होंने कहा कि राजद को बैठ कर बात करनी चाहिए। दरभंगा कांग्रेस की परंपरागत सीट रही है और कीर्ति आज़ाद ऐसे उम्मीदवार हैं जो सीट जीता सकते हैं।

Quaint Media, Quaint Media consultant pvt ltd, Quaint Media archives, Quaint Media pvt ltd archives Live Bihar, Live Bihar, Live India

ज्ञात हो कि महागठबंधन में सीट बंटवारा हो गया लेकिन कौन सी सीट किसके हिस्से में जायेगी इसको लेकर कुछ सीटों पर पेंच अभी भी फंसा हुआ है और उन्ही में से एक है दरभंगा सीट। कीर्ति आज़ाद इस सीट से भाजपा के टिकट पर सांसद बने थे और अब कांग्रेस में है। कहा जा रहा है कि वो इसी शर्त पर कांग्रेस में शामिल हुए हैं कि उन्हें दरभंगा से टिकट दिया जायेगा लेकिन राजद के रुख से मुश्किलें बढ़ गई है।