नीति आयोग के उपाध्यक्ष झारखंड में हुए विकास का लिया जायजा, सीएम रघुवर दास को दी शाबाशी

PATNA: झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ राजीव कुमार की टीम ने झारखण्ड में शिक्षा के क्षेत्र में प्रगति की सराहना की। साथ ही कम उम्र में विवाह, कुपोषण जैसी समस्या को दूर करने के लिए राज्य सरकार द्वारा उठाए गए कदम की तारीफ की। आपको बता दें कि अभी नीति आयोग के उपाध्यक्ष झारखंड राज्य के दौरे पर हैं और वहां कामों की प्रगति और विकास की संभावनाओं पर रघुवर दास के साथ चर्चा कर रहे हैं।

रघुवर दास का कहना है कि झारखण्ड में शिक्षा के क्षेत्र में काफी सुधार हुआ है। उन्होंने कहा है कि हमारी सरकार बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए प्रतिबंध है और बेहतर काम भी कर रही है। झारखण्ड देश का अग्रणी राज्य बनें, इसके लिए हमारी सरकार शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम कर रही है। आजादी के बाद पहली बार मोदी के नेतृत्व में सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के मूल मंत्र पर काम हो रहा है, इसलिए राज्य की जनता राष्ट्र निर्माण में अपनी भागीदारी निभाएं।

इतना ही नहीं, हमारी सरकार राज्य की सवा तीन करोड़ जनता के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। लोगों को अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं, शिक्षा और आधारभूत संरचना मिले, इस दिशा में तेजी से काम हो रहा है। समय सीमा तय कर योजनाएं लागू की जा रही हैं और इसके सकारात्मक परिणाम भी दिख रहे हैं।

CM Raghubar Das
विपक्ष पर साधा निशाना-

उन्होंने कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि आजादी के 70 सालों के बाद तक गांवों में आधारभूत संरचना नहीं थी। मोदी ने गांव और गरीबों के विकास पर काफी ध्यान दिया और काम भी किया, जिसके कारण अब देश की तस्वीरें बदल रही है। झारखण्ड के हर गांव में स्ट्रीट लाइट, स्वच्छ पेयजल और पेवर ब्लॉक की व्यवस्था की जा रही है। 2014 से पहले झारखंड में उग्रवाद समस्या सबसे बड़ी थी, जिससे राज्य के विकास को गति नहीं मिल रही थी क्योंकि अशांति के कारण विकास जनता तक नहीं पहुंच रहा था, लेकिन अब नक्सलवाद अपनी अंतिम सांस गिन रहा है। इतना ही नहीं, आने वाले समय में नक्सलवाद से झारखण्ड मुक्त हो जायेगा। यही हमारा लक्ष्य भी है।

ईद पर मुस्लिमों को संबोधन-

ईद के मौके पर उन्होंने मुस्लिम समाज के युवाओं और महिलाओं से अपील है कि वे तरक्की के रास्तों पर चलें और हुनरमंद बनें। हमारी सरकार हर कदम पर मुस्लिम समुदाय के साथ खड़ी है। आज उज्ज्वला, प्रधानमंत्री आवास, कौशल विकास, एक रुपये में रजिस्ट्री, सखी मंडल जैसी योजनाओं का लाभ मुस्लिम समाज को भी बराबर मिल रहा है। सारी समस्याओं का सिर्फ एक हल है, तेजी से विकास। इतना ही नहीं, उन्होंने कहा है कि हमलोग धर्म, जात, पात की राजनीति नहीं करते हैं और ना ही इस आधार पर जनता को ठगने की कोशिश करते हैं। जो नेता इस तरह की काम करते हैं, उससे राज्य की जनता को सतर्क रहना चाहिए।