केंद्र और बिहार सरकार के बीच टक’राव, बिहार ने केंद्र से गंगा के पानी में हिस्सेदारी मांगी

PATNA : बिहार सरकार और केंद्र सरकार के बीच गंगा के पानी को लेकर विवा’द बढ़ रहा है। बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय झा ने गंगा के पानी में हिस्सेदारी मांगी है। उन्होंने कहा कि जनवरी से अप्रैल के बीच बिहार को गंगा का पूरा पानी मिलना चाहिये। इस बीच किसानों को अपनी फसलों की सिंचाई के लिये अधिक पानी की जरूरत पड़ती है।

LIVE BIHAR

मंत्री संजय झा ने कहा कि जनवरी से अप्रैल के बीच बक्सर को सिर्फ 400 क्यूसेक पानी मिलता है जो बहुत कम है।बिहार को बांग्लादेश के हित भी देखना पड़ता है। संजय झा यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि बिहार के लिए फरक्का बराज शोक बन गया है। अगर यही स्थिति रही तो हालात और भी भयावह हो सकते हैं।

बिहार सरकार के मंत्री संजय झा ने कहा कि फरक्का बराज के कारण गंगा की अविरलता नहीं बची है। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि इलाहाबाद से पटना की दूरी 515 किलोमीटर है। इस दूरी तो तय करने में पानी को 48 घंटे लगते है। वहीं, पटना से फरक्का की दूरी 400 किलोमीटर है। इस दूरी तय करने में लगभग 9 दिन लगते हैं। उन्होंने कहा कि फरक्का को तोड़े बिना समस्या का समाधान नहीं है। अगर नहीं तोड़ते हैं तो उसकी बनावट को बदला जाए। आपको बता दें कि केंद्र सरकार का पहले से रुख रहा है कि गंगा के पानी को सभी राज्यों में बराबर बांटा जाय।