झारखण्ड कांग्रेस की समीक्षा बैठक में कार्यकर्ताओं का भारी विरोध प्रदर्शन जारी

रांची:लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद झारखण्ड कांग्रेस कमेटी की समीक्षा बैठक रांची में हो रही है | इसमें प्रदेश प्रभारी आरपीएन सिंह और सह प्रभारी भी शामिल है | रांची में कांग्रेस दफ्तर के बाहर प्रदेश अध्यक्ष डाॅ अजय कुमार के खिलाफ  भारी विरोध प्रदर्शन हो रहा है| प्रदर्शनकारी कार्यकर्ताओं का कहना है कि उनके विरोध करने का मुख्य कारण अजय कुमार की कार्यशैली है क्योंकि लोकसभा चुनाव में प्रदेश अध्यक्ष के रूप में डॉ अजय कुमार की भूमिका नगण्य रही थी |

डॉ अजय कुमार

कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का यह भी कहना है कि प्रदेश अध्यक्ष ने भाजपा को जिताने का काम किया है | कार्यकर्ताओं का मानना है कि अजय कुमार ने प्रदेश में कांग्रेस को कमज़ोर किया है | कांग्रेस ने झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के साथ गठबंधन करके चुनाव लड़ा था किन्तु प्रदेश अध्यक्ष ने केवल अपने करीबी प्रत्याशियों का ही प्रचार किया और शेष जगह कांग्रेस को कमज़ोर किया | आपको बता दें कि अजय कुमार ने हार के बाद इस्तीफा दिया था लेकिन पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने उनके त्यागपत्र को अस्वीकार कर दिया था |

झारखण्ड में औंधे मुँह गिरी थी कांग्रेस-

झारखंड में पार्टी की बड़ी दुर्गति हुई थी| पूर्व आईपीएस अधिकारी और झारखंड कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार ने भी प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था | झारखंड की 14 सीटों पर कांग्रेस-जेएमएम का प्रदर्शन उम्मीद से काफी कम रहा था | झारखंड में भी प्रदर्शन राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की तरह ही रहा, जबकि कहा जा रहा था कि कांग्रेस काफी बढ़िया प्रदर्शन करेगी. राज्य की 14 सीटों में से कांग्रेस को सिर्फ एक सीट पर जीत नसीब हुई थी जबकि एक सीट उसकी सहयोगी झारखण्ड मुक्ति मोर्चाको मिली थी | झारखंड की 14 लोकसभा सीटों के चुनाव में भाजपा ने जबरदस्त प्रदर्शन किया था | इसमें भाजपा-आजसू गठबंधन ने 12 सीटों पर जीत दर्ज की थी| दुमका में झामुमो सुप्रीमो शिबू सोरेन चुनाव हार गए थे | कोडरमा में बाबूलाल मरांडी, रांची में सुबोधकांत सहाय ने भी अपनी सीटें गंवा दी थीं |