एनडीए-महागठबंधन के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बना दरभंगा लोक सभा सीट, कौन होगा उम्मीदवार

PATNA : लोकसभा चुनाव के नजदीक आते ही दरभंगा लोकसभा सीट पर विभिन्न दलों के उम्मीदवार को लेकर चर्चा दिनों दिन गरमाता जा रहा है। महागठबंधन से कौन। एनडीए से कौन होगा उम्मीदवार। ये जानने को उत्सुक आवाम में चर्चाएं तेज है। बीजेपी से जहां कांग्रेस में शामिल कीर्ति आजाद को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं। क्या वो महागठबंधन के उम्मीदवार होंगे। वहीं जेडीयू नेता संजय झा को लेकर भी बाजार गर्म है। बातें यहां तक हो रही है कि संजय झा एनडीए के उम्मीदवार तो होंगे मगर उम्मीदवारी बीजेपी से होगी, क्योंकि दरभंगा सीट बीजेपी का है।

quaint media

तो क्या संजय झा बीजेपी के उम्मीदवार होंगे ? सवाल कई है अगर कीर्ति दरभंगा से तो फिर मो. अली अशरफ फातमी कहाँ से। क्या फातमी दरभंगा से चुनाव नही लड़ेंगे। क्या दरभंगा सीट से राजद अपनी दावेदारी छोड़ देगी। क्या फातमी को मना लिया जाएगा। ऐसे कई प्रश्न लोगों के बीच करवटे ले रही है। इन सभी सवालों के बीच सबसे चौकाने वाला सवाल तो जेडीयू नेता संजय झा के विषय में है। क्या वो अपने पुराने घर बीजेपी में जा रहे हैं?

 

अगर वो यहां से चुनाव लड़ेंगे तो उन्हें ऐसा करना पड़ेगाI वो इसलिए कि बीजेपी अपना परंपरागत सीट नही छोड़ना चाहती है। क्या ये फैसला जेडीयू और बीजेपी के म्युचुअल अंडरस्टैंडिंग के तहत होगा। तब तो एक बार फिर दरभंगा संसदीय सीट हाट सीट बनता नजर आ रहा है। अगर सब कुछ ऐसी चर्चाओं के आधार पर होती है तो क्या दरभंगा का चुनावी टक्कर संजय झा और कीर्ति आजाद में होगा? बहरहाल मुंहे मुंह बातें बहुत है मगर इतना स्पष्ट है कि दरभंगा लोकसभा चुनाव में फिलहाल उम्मीदवारी को लेकर कांटे की टक्कर है।

लेखक : आलोक पुंज, पत्रकार, दरभंगा