सुशील मोदी बोले- SC के फैसले से भारतीय संस्कृति का सूर्य क’टुता के ग्रहणकाल से मुक्त हुआ

PATNA : बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से भारतीय संस्कृति का सूर्य कटुता के ग्रहणकाल से मुक्त हुआ है। अयोध्या में रामजन्म भूमि मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट का निर्णय देश की परंपरा, आस्था और भावनाओं का सम्मान करने वाला है। इससे मंदिर भी बनेगा और मस्जिद भी बनेगी।

सुशील मोदी ने कहा कि इस ऐतिहासिक फैसले के साथ सामाजिक सौहार्द पर विपरीत असर डालने वाला एक विवा’द हमेशा के लिए समाप्त हो गया है। सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ के पांच माननीय न्यायाधीशों ने जिस धैर्य के साथ सबको अपनी बात रखने का मौका दिया और तथ्यों के आधार पर सर्वसम्मति से जो फैसला सुनाया, उसका सबको सम्मान करना चाहिए।

डिप्टी सीएम ने कहा कि इससे ज़्यादा संतुलित फ़ैसला नहीं हो सकता। मस्जिद भी रहेगी, मंदिर भी रहेगा। ये फैसला दोनों पक्षों को संतुष्ट करने वाला फ़ैसला है। इसमें न दुखी होने की ज़रूरत और न दिवाली मनाने की ज़रूरत है। इसके समर्थन और विरोध में धरना जुलूस नहीं होना चाहिए। शांति व्सवस्था की अपील करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि कहीं कुछ भी और कोई भी हमारा पराया नहीं था, ना है और ना ही रहेगा। सब हमारे थे, हैं और रहेंगे।‪ अब राजनीतिक दलों व सरकारों का ध्यान अच्छे स्कूल, कॉलेज, विश्वविद्यालय और अस्पताल बनाने, किसानों का कल्याण, ग़रीबों का उत्थान एवं युवाओं को रोज़गार दिलाने पर होना चाहिए।‬