बिहार की जनता शर्मिंदा है, एनडीए हमारा नुमाइंदा है- डॉ. नवल किशोर

PATNA: RJD National Spokesperson डॉ. नवल किशोर ने कहा कि बिहार की जनता शर्मिंदा है, एनडीए हमारा नुमाइंदा है। आपको बता दें कि उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की शासन व्यवस्था पर सवाल उठाने की कोशिश की है।

डॉ. नवल किशोर का कहना है कि जब से नीतीश कुमार संघपोषित भारतीय जनता पार्टी के साथ गठबंधन बनाकर सरकार बनायी है तबसे राज्य में शासन व्यवस्था की स्थिति लचर हो गयी है। यही कारण है कि हाल ही में स्वास्थ्य स्थिति पर नीति आयोग की रिपोर्ट में बिहार बहुत पीछ रह गया है। क्या स्वास्थ्य, क्या शिक्षा और क्या विधि-व्यवस्था, सबके सब नीतीश कुमार के शासन में ध्वस्त होने के कगार पर है।

नीति आयोग ने जारी की राज्यवार स्वास्थ्य सूचकांक-

हाल ही में नीति आयोग (NITI Aayog) ने राज्य स्वास्थ्य सूचकांक (State Health Index) का दूसरा संस्करण जारी किया है। इसमें केरल को सर्वाधिक स्वस्थ राज्य बताया गया। वहीं उत्तर प्रदेश इस सूचकांक में सबसे निचले स्थान पर है। जहां तक बिहार की बात करे तो इसकी स्थिति भी दयनीय है। बिहार की स्वास्थ्य सुविधाओं की स्थिति में पिछले कई सालों में कोई सुधार नहीं दिखा है। बिहार की स्वास्थ्य स्थिति में गिरावट भी आई है। बिहार में केवल 56% माताएँ ही सुविधाओं से युक्त अस्पतालों में अपना प्रसव कराती हैं। इतने कम संख्या में संस्थागत प्रसव राष्ट्रीय औसत से भी खराब स्थिति की ओर संकेत करता है।