बिहार शिक्षकों के लिए अच्छी खबर, चुनाव बाद होगी शिक्षकों की बहाली

PATNA : बिहार से शिक्षकों को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। शुक्रवार को नियोजित शिक्षकों को लेकर आए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसले के बाद बिहार में शिक्षकों की भर्ती को लेकर मीडिया से बात करते हुए शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने बताया कि अब नियोजित शिक्षकों की बहाली का रास्ता साफ हो गया है।

नियोजित शिक्षकों को लेकर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने एक बड़ा फैसला सुनाया था। इस फैसले के बाद बिहार में शिक्षकों की भर्ती का रास्ता साफ़ हो गया। लोकसभा चुनाव के खत्म होने के बाद बिहार में बड़े स्तर पर शिक्षकों की बहाली होगी। इस दौरान मीडिया से बात करते हुए बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा ने बताया कि सभी नियोजन इकाईयों से रिक्तियां मंगवाई जाएगी और इन्हीं रिक्तियों के आधार पर भर्ती निकाली जाएगी।

LIVE INDIA

इस बहाली को लेकर शिक्षा मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया कि वैकेंसी निकलते ही नियोजन इकाईयों को रोस्टर भेजे जाएंगे। जिसमें टीईटी अभ्यर्थियों को अवसर दिया जाएगा। कृष्णनंदन वर्मा ने बताया कि राज्य में लगभग 80 हजार से अधिक टीईटी पास अभ्यर्थी हैं। शिक्षा मंत्री ने शिक्षक भर्ती के बारे में बताया कि इस वेकेंसी में एसटीईटी पास वाले अभ्यार्थियों को भी अवसर दिया जाएगा। बता दें कि अक्टूबर 2017 में पटना हाईकोर्ट के फैसले के बाद बिहार सरकार ने शिक्षक बहाली की प्रक्रिया पर रोक लगा रखी थी।

बता दें कि समान काम-समान वेतन के मामले में पटना हाईकोर्ट ने शिक्षकों के पक्ष में फैसला सुनाया था और बिहार सरकार को समान वेतन देने का निर्देश दिया था। लेकिन बिहार सरकार ने इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। पटना हाईकोर्ट के फैसले को लेकर बिहार सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी। इसी याचिका को लेकर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया था।