सहरसा में कोहरे की कहर, ट्रक से टकराई बस, बाल बाल बचे यात्री

PATNA : बिहार थाना क्षेत्र के बेला बगरोली गांव के समीप सहरसा- सुपौल मुख्य मार्ग पर शनिवार की अहले सुबह घने कोहरे के कारण बस और ट्रक के बीच हुई टक्कर में एक दर्जन से अधिक बस यात्रियों को चोटें आई। हालांकि सभी बस यात्री सुरक्षित बच गए अन्यथा बड़ा हादसा हो जाता।

तेज रफ्तार बस जानकी ट्रेवल्स ने सड़क किनारे खड़ी ट्रक में पीछे से जाकर टक्कर मार दी। बस सहरसा से सुपौल जा रही थी। शनिवार की सुबह घना कोहरा था बस चालक को पता ही नहीं चला और सड़क किनारे खड़ी ट्रक में टक्कर मार दी। सहरसा से फारबिसगंज जा रही जानकी ट्रैवल्स स्टार बस बी आर 19 जे 0865 घने कोहरे के कारण बेला गांव के नजदीक सड़क किनारे चावल लदी खड़ी टाटा ट्रक डब्लू बी 53 ए 0855 में पीछे से टकरा गई। इस दुर्घटना में बस के आगे का भाग बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। संयोग अच्छा था कि ठंड के कारण सुबह के समय में बस में कम ही यात्री थे। वहीं चालक को हल्की चोटें आई वह भी सुरक्षित बच गया। बिहरा थाना पुलिस घटनास्थल पर पहुंच छानबीन में जुट गई है।

दिल्ली से बिहार जा रही बस का हुआ एक्सीडेंट, मोतिहारी में बीच सड़क पर पलटी बस : बिहार के मोतिहारी में दिल्ली से मुजफ्फरपुर जा रही बस अनियंत्रित हो कर पलट गई। हादसा चकिया थाना के बनरझुला चौक के पास एनएच पर हुआ। जानकारी के मुताबिक बस पीपराकोठी की तरफ से तेज गति से अपने लेन में आ रही थी। इसी दौरान अचानक सामने से आ रहा ट्रक दूसरे लेन से बस वाले लेन में आ गया जिस कारण चालक ने नियंत्रण खो दिया और बस पलट गई।

बस पलटने से सात यात्री घायल हो गए जिनका इलाज चकिया रेफरल अस्पताल में किया गया है। घायल यात्रियों में तीन की हालत गम्भीर बतायी जा रही है। घायल यात्री मुजफ्फरपुर और मधुबनी जिला के रहने वाले हैं जो दिल्ली से मुजफ्फरपुर आ रहे थे। बस पलटने से एनएच का एक लेन जाम हो गया। घटना की सूचना मिलते ही चकिया के डीएसपी मौके पर पहूंचे और बस को हटाकर रास्ता शुरू कराया। हादसे का शिकार हुए अन्य यात्रियों को दूसरे बस से मुजफ्फरपुर भेजा गया वहीं घायल यात्रियों के फर्द बयान पर प्राथमिकी दर्ज की जा रही है। इलाज कर रहे चिकित्सक ने बताया कि घायल सभी सात यात्रियों की स्थिति खतरे से बाहर है।

 

घायलों में मधुबनी जिला के पिपरास निवासी भोगेश्वर राम का पुत्र परमेश्वर कुमार, नेपाल के शुन्यलाल की पत्नी सुमित्रा देवी व नेपाल के राकेश राय के 8 वर्षीय पुत्र प्रिंस कुमार को प्राथमिक उपचार के बाद मुजफ्फरपुर रेफर कर दिया गया हैं। वहीं मधुबनी के माधौपट्टी निवासी रामचंद्र यादव के पुत्र मिथलेश कुमार, सुपौल के भरारा निवासी राजाराम मंडल के पुत्र शिवकुमार व मधुबनी के खोटना निवासी रामाश्रय यादव के पुत्र सुधीर यादव का स्थानीय अस्पताल में इलाज चल रहा हैं। इसके अलावे कई घायल दुर्घटना के बाद दूसरी गाड़ी से अन्यत्र इलाज के लिए निकल गए।

The post सहरसा में कोहरे की कहर, ट्रक से टकराई बस, बाल बाल बचे यात्री appeared first on Mai Bihari.