ओवैसी के हिंदी भाषा पर दिये विवा’दित बयान पर भ’ड़के गिरिराज सिंह, बताया जिन्ना का जि’न्न

PATNA : ओवैसी के बयान पर केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता गिरिराज सिंह ने करा’रा प्र’हार किया है। उन्होंने कहा कि असदुद्दीन ओवैसी जैसे लोगों के ज़े’हन में जिन्ना का जि’न्न बसता है और वो राष्ट्रीयता की बात कर ही नहीं सकते हैं। हिंदी दिवस पर एक कार्यक्रम में अमित शाह ने कहा कि एक देश के लिए एक आम भाषा होना बेहद जरूरी है जो दुनिया में अपनी पहचान का प्रतीक बन जाए। इस पर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा था कि हिंदी सभी भारतीयों की मातृभाषा नहीं है।

गिरिराज सिंह ने कहा कि ओवैसी वही हैं जिसका संसद में एक सदस्य है, लेकिन सदन से उठकर चला जाता है। गिरिराज सिंह ने ओवैसी की सोच पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि जब भी देश में राष्ट्रीयता की बात हो, 37ट0 की बात हो, कॉमन सिविल कोड की बात हो और जब भी एक भारत की बात आती है तब-तब जिन्ना का जि’न्न निकलकर इनके चेहरे और इनकी ज़ुबान पर आ जाता है। आपको बता दें कि असदुद्दीन ओवैसी ने अपने ट्वीट में कहा कि भारत हिंदी, हिंदू और हिंदुत्‍व से कहीं अधिक बड़ा है। आर्टिकल 29 हर भारतीय को अलग भाषा और संस्‍कृति का अधिकार देता है।

आपको बता दें कि आज हिंदी दिवस है और अमित शाह ने हिंदी दिवस की शुभकामनाएं देते हुए एक ट्वीट किया था। इस में उन्होंने लिखा था कि भारत विभिन्न भाषाओं का देश है और हर भाषा का अपना महत्व है परन्तु पूरे देश की एक भाषा होना अत्यंत आवश्यक है जो विश्व में भारत की पहचान बने। आज देश को एकता की डोर में बांधने का काम अगर कोई एक भाषा कर सकती है तो वो सर्वाधिक बोले जाने वाली हिंदी भाषा ही है। गृहमंत्री के इसी ट्वीट पर ओवैसी ने प्रतिक्रिया दी थी।