गोपाल जी ठाकुर ने लोकसभा में उठाया एम्स का मुद्दा, दरभंगा में बन सकता है राज्य का दूसरा एम्स

PATNA: लोकसभा में भाजपा के टिकट पर दरभंगा के सांसद गोपाल जी ठाकुर ने बिहार में एक और एम्स बनाने का मुद्दा उठाया। आपको बता दें कि गोपाल जी ठाकुर ने दरभंगा में एक एम्स की स्थापना की बात कही है। इतना ही नहीं, उन्होंने यह भी कहा कि अगर दरभंगा में एक एम्स की स्थापना होती है तो बिहार के 22 जिलों और नेपाल के 14 जिलों के मरीजों को स्वास्थ्य सुविधा आसानी से मुहैया कराया जा सकेगा। गोपाल जी ठाकुर का कहना है कि दरभंगा में एम्स की स्थापना मिथिलांचल के लोगों की वर्षों पुरानी मांग है।

GOPAL JI THAKUR
पटना में दूसरे एम्स की स्थापना के लिए राज्य सरकार नहीं दे पायी जमीन-

आपको बता दें कि इससे पहले 2015-16 के बजट में तत्कालीन वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बिहार में एक नया एम्स बनाने की घोषणा की थी, लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दूसरा एम्स के लिए जमीन आवांटित नहीं किया, जिसके कारण दूसरा एम्स का सपना बिहारवासियों के लिए सपना ही रह गया। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बिहार सरकार से कई बार जमीन आवांटित करने लिए अनुरोध किया। यहां तक केन्द्र सरकार ने नीतीश कुमार से कहा कि आप केन्द्र को 3 से 4 अलग-अलग जगहों की जानकारी दें ताकि किसी एक जगह को चयनित करके बिहार में दूसरा एम्स बनाया जा सके, लेकिन चार सालों में नीतीश सरकार ने ना तो किसी जमीन की पहचान कर पायी और ना ही कोई जमीन केन्द्र को आवांटित किया।

केन्द्र ने भी अपना वादा पूरा नहीं किया-

लगातार नीतीश सरकार द्वारा केन्द्र के दूसरे एम्स बनाने के फैसलों की अनदेखी के कारण तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने दरभंगा के एक जिला अस्पताल को ही एम्स के तर्ज पर विकसित करने का फैसला कर दिया। जेपी नड्डा के फैसलों के बाद भी अभी तक दरभंगा में एम्स की स्थापना नहीं हो पायी है। राज्य में स्वास्थ्य व्यवस्था की कमी के कारणों सैकड़ों बच्चे चमकी बुखार की चपेट में अपनी जान गवां दी लेकिन सरकार की अनदेखी बरकरार है।