नवनियुक्त राज्यपाल फागू चौहान का बिहार की जनता से वादा, करेंगे उच्च शिक्षा में सुधार

PATNA: बिहार के नवनियुक्त राज्यपाल फागू चौहान ने कहा कि वे राज्य में उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए काम करेंगे। हालांकि उनका कहना है कि वे अभी बिहार की सभी मूल समस्याओं को नहीं जानते हैं लेकिन जल्द ही इससे परिचित होंगे और उसके अनुसार काम करेंगे। पहली बार राजनीति से इतर संवैधानिक पदों का दायित्व मिलने पर चौहान का कहना है कि राज्यपाल पद की गरिमा को ध्यान में रखते हुए, इसमें राजनीतिक रंग नहीं भरेंगे।

उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास नहीं था कि वे राज्यपाल बनेंगे लेकिन केन्द्र सरकार ने उनपर भरोसा किया है तो अपनी सभी दायित्वों को निभाउंगा। एक गरीब घर का व्यक्ति होने के नाते गरीबों की सेवा करुंगा।

फागू चौहान
कौन हैं फागू चौहान

फागू चौहान वर्तमान में उत्तरप्रदेश के घोसी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के विधायक हैं। वह घोसी से एकमात्र विधायक हैं जिन्होंने अधिकतम संख्या छह बार चुनाव जीता है। वह उत्तर प्रदेश के मऊ जिले में घोसी विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं। इनको मऊ ज़िले में मुख्तार अंसारी से भी ज़्यादा धनी नेता माना जाता है। ये पहली बार 1985 में विधायक बने थे।

चौहान की राजनीतिक यात्रा

फागू चौहान ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत 1985 में राजनीतिक पार्टी दलित मजदूर किसान पार्टी से किया था। अपने राजनीतिक जीवन में पहली बार 1985 में विधायक बने। इसके बाद उन्होंने अलग-अलग पार्टी से कई विधान सभा चुनाव लड़े और छह बार जीते। 2017, उत्तर प्रदेश में राज्य विधानसभा चुनाव में उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा और अपने करीबी उम्मीदवार बहुजन समाज पार्टी से अब्बास अंसारी को 7,003 मतों के अंतर से हराया।

आपको बता दें कि फागू चौहान को भाजपा का कद्दावर नेता माना जाता है। इन्होंने पहली बार 2002 में भाजपा से चुनाव लड़ा था। तब से लेकर अब तक फागू चौहान लगातार भाजपा से चुनाव जीतते आ रहे हैं।